प्रदेश के कॉलेजों को मिले 168 असिस्टेंट प्रोफेसर, आयोग ने जारी किया चार विषयों का परिणाम

प्रदेश के कॉलेजों को मिले 168 असिस्टेंट प्रोफेसर, आयोग ने जारी किया चार विषयों का परिणाम

प्रयागराज: प्रदेश के अशासकीय सहायता प्राप्त महाविद्यालयों को 168 नए असिस्टेंट प्रोफेसर मिल गए हैं। उत्तर प्रदेश उच्चतर शिक्षा सेवा आयोग ने शनिवार को विज्ञापन संख्या-50 के तहत चार विषयों में असिस्टेंट प्रोफेसर भर्ती का अंतिम चयन परिणाम जारी कर दिया। इनमें असिस्टेंट प्रोफेसर अंग्रेजी के 133, मानवशास्त्र का एक, उर्दू के 10 और असिस्टेंट प्रोफेसर इतिहास के 24 पद शामिल हैं।

असिस्टेंट प्रोफेसर प्राचीन इतिहास के तहत अनारक्षित वर्ग के 11, अन्य पिछड़ा वर्ग के नौ, अनुसूचित जाति के चार पदों पर भर्ती के लिए 28 एवं 29 जून को हुए साक्षात्कार में 78 अभ्यर्थियों को बुलाया गया था, जिनमें से 72 उपस्थित रहे। वहीं, असिस्टेंट प्रोफेसर के 133 पदों (अनारक्षित 63, आर्थिक रूप से कमजोर वर्ग 10, अन्य पिछड़ा वर्ग 43, अनुसूचित वर्ग 17) के पदों पर भर्ती के लिए 20 जून से दो जुलाई तक हुए साक्षात्कार में बुलाए गए 446 अभ्यर्थियों में से 404 शामिल हुए।

असिस्टेंट प्रोफेसर मानवशास्त्र के अनुसूचित जाति वर्ग के लिए आरक्षित एक पद का इंटरव्यू दो जुलाई को हुआ, जिसमें सभी पांच अभ्यर्थी शामिल हुए। असिस्टेंट प्रोफेसर उर्दू के एक अनारक्षित पद, अन्य पिछड़ा वर्ग के छह एवं अनुसूचित जाति वर्ग के लिए आरक्षित तीन पदों पर भर्ती के लिए 30 जून एवं एक जुलाई को हुए साक्षात्कार में 36 अभ्यर्थियों को बुलाया गया था, जिनमें से 33 शामिल हुए। 

आयोग की सचिव वंदना त्रिपाठी के अनुसार जिन अभ्यर्थियों के साक्षात्कार के समय वांछित अभिलेख आयोग कार्यालय में उपलब्ध नहीं कराए थे, उनका चयन औपबंधिक रूप से किया गया है। ऐसे अभ्यर्थियों को 23 जुलाई तक आयोग कार्यालय में अपने अभिलेख उपलब्ध कराने हैं, वरना उनके अभ्यर्थन पर कोई विचार नहीं किया जाएगा।

editor

editor

Leave a Reply

Your email address will not be published.