अग्निपथ योजना पर पीएम मोदी की तीनों सेना प्रमुखों के साथ अहम बैठक

अग्निपथ योजना पर पीएम मोदी की तीनों सेना प्रमुखों के साथ अहम बैठक

नई दिल्ली : सेना में भर्ती को लेकर बनाई गई अग्निपथ योजना को लेकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी तीनों सेना प्रमुखों के साथ अहम बैठक कर रहे हैं। इस बैठक में तीनों सेना प्रमुखों के पीएम मोदी से अलग-अलग मुलाकात कर अग्निपथ योजना के साथ-साथ इसके कार्यान्वयन की अपनी योजना के बारे में जानकारी देने की संभावना है। नई सैन्य भर्ती योजना के खिलाफ कई राज्यों में व्यापक विरोध के बीच यह बैठक हो रही है।

प्रधानमंत्री को योजना के क्रियान्वयन से अवगत कराएंगे
जानकारी के मुताबिक, तीनों सेना प्रमुखों की प्रधानमंत्री से योजना के क्रियान्वयन के विभिन्न पहलुओं पर बात होगी। बता दें कि प्रधानमंत्री और सेना प्रमुखों के बीच बैठकों के बारे में कोई आधिकारिक बयान नहीं आया था। 14 जून को नए सैन्य भर्ती मॉडल की घोषणा के बाद देश के कई हिस्सों में हिंसक विरोध प्रदर्शन हो रहे हैं। इसके मद्देनजर यह बैठक काफी अहम मानी जा रही है। 

17 से 21 साल के युवकों के लिए योजना 
अग्निपथ योजना में साढ़े 17 वर्ष से 21 वर्ष की आयु के बीच के युवाओं को केवल चार वर्ष के लिए भर्ती करने का प्रावधान है, जिसमें से 25 प्रतिशत को 15 और वर्षों तक बनाए रखा जाएगा। योजना के विरोध के कुछ दिनों बाद सरकार ने 2022 में भर्ती के लिए ऊपरी आयु सीमा 23 वर्ष तक बढ़ा दी थी। नई योजना के तहत भर्ती होने वाले कर्मियों को ‘अग्निवर’ के रूप में जाना जाएगा।

कई विपक्षी दलों के साथ-साथ सैन्य दिग्गजों ने 75 प्रतिशत रंगरूटों के चार साल के कार्यकाल पर सवाल उठाते हुए इस योजना की आलोचना की है। वहीं, सरकार इस योजना का पुरजोर बचाव करते हुए कह रही है कि सशस्त्र बलों में भर्ती के लिए परिवर्तनकारी सुधार उपाय युवाओं को राष्ट्र की सेवा करने का अवसर प्रदान करेगा।

editor

editor

Leave a Reply

Your email address will not be published.