जिलाधिकारी सोनिका जनपद में डेंगू के बढ़ते हुए मामलों को लेकर गंभीर ~

जिलाधिकारी सोनिका जनपद में डेंगू के बढ़ते हुए मामलों को लेकर गंभीर

जिलाधिकारी सोनिका जनपद में डेंगू के बढ़ते हुए मामलों को लेकर गंभीर
  • नगर निगम से डेंगू की रोकथाम के लिए फागिंग मशीन से दवा का छिड़काव करने की दी हिदायत
  • सीएमओ और संबन्धित अधिकारियों के साथ बैठक कर दिए जरूरी निर्देश

देहरादून। जिलाधिकारी सोनिका ने जनपद में बढते हुए डेंगू मामले को गम्भीरता से लेते हुएए मुख्य चिकित्साधिकारी एवं संबंधित अधिकारियों के साथ बैठक करए डेंगी पर प्रभावी रोकथाम के लिए डेंगू उन्मूलन अभियान चलाए जाने के लिए रेखीय विभाग के अधिकारियों को आवश्यक दिशा निर्देश दिए।
मुख्य चिकित्साधिकारी को निर्देशित किया कि डेंगू रोगियों के दृष्टिगत अस्पतालों में चाकचौबंद व्यवस्था उपलब्ध रखेगे। उन्होंने नगर निगम को डेंगू की रोकथाम के लिए फॉगिंग मशीन से दवाई का छिड़काव करने के निर्देश दिए। जबकि संबंधित अधिकारियों को जन.जागरूकता अभियान चलाने एवं प्रिंट, इलैट्रोनिकए एफएम रेडिया एवं सोशल मीडिया आदि सभी माध्यमों में वृहद स्तर पर प्रचार प्रसार करने के निर्देश दिए। ताकि अधिक से अधिक लोगों को डेंगू के लक्षण व बचाव के संबंध में जागरूक किया जा सकें। जबकि मुख्य चिकित्साधिकारी से डेंगू को लेकर किए जा रहेए कार्यो की जानकारी लेते हुए रेखीय विभाग के साथ बेहतर समन्यवय बनाते हुए कार्य करने के निर्देश दिये। उन्होने देहरादून नगरए डोईवाला, ऋषिकेश आदि क्षेत्र में आये मामले पर नियंत्रण करने तथा अन्य क्षेत्र में भी निगरानी बनाये रऽने के निर्देश दिये। कहा कि प्रतिदिन क्षेत्र, स्थान वार रिपोर्ट उन्हें व्हट्सअप में प्रेषित करेंगे।साथ ही डेंगू से बचाव के उपायों घर के खाली बर्तनों, गमलों, छतों,खुली बोतलों, कुलर, नालियों आदि में पानी जमा न हो के प्रति बच्चों को भी जागरूक किया जाए। उन्होंने सभी कार्यालयाध्यक्षों को कार्यालय में डेंगू उन्मूलन अभियान चलाये जाने के निर्देश दिए।

उन्होंने स्वास्थ्य विभाग को आईसोलेशन वार्ड की व्यवस्था तथा प्लेटलेट्स की उपलब्धता सुनिश्चित करने के निर्देश दिए साथ ही नगर निगम को अभियान डेगू उन्मूलन अभियान के तहत फॉगिंगए कीटनाशकों का छिड़काव, जल निकासी की व्यवस्था तथा जहां पर डेंगू का लारवा पाया जाता है उसे नष्ट करने तथा अभियान के दौरान यदि किसी घर, रेस्टोरेंट, सिनेमा घर, मॉल,वर्कशापॅ आदि स्थानों पर बार.बार ठहरा हुआ जल, लारवा पाया जाता है तो संबंधित के विरूद्ध चालान की कार्यवाही करने के निर्देश दिए। जिलाधिकारी ने मुख्य शिक्षा अधिकारी को जनपद के अवस्थित समस्त विद्यालयों के प्रधानाचार्य एवं प्रबंधक को बच्चों की सुरक्षा को दृष्टिगत रखते हुए फुल ड्रैस, जिसमें शरीर के सभी अंग ढके रहें में स्कूल बुलाये जाने तथा डेगू से बचाव के लिए मानक के अनुरूप क्या करें, क्या न करें, की समुचित उपाय अपनाया जाय।बैठक में मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ. मनोज उप्रेती,डेंगू, मलेरिया अधिकारी डॉ. सुभाष जोशी, सहित रेखीय विभाग के अधिकारी उपस्थित रहे।

एक दर्जन से ज्यादा स्कूलों को कारण बताओ नोटिस
देहरादून। डेंगू से बचाव के लिए पूर्व प्रेेषित निर्देशों के अनुपालन न करने वाले विद्यालयों पर जिलाधिकारी के निर्देशों के क्रम में मुख्य शिक्षा अधिकारी ने प्रधानाचार्यध्प्रबंधक सेन्ट जोजफ एकडमी देहरादून, समर वैली स्कूल तेग बहादुर रोड़ देहरादून, ऑक्सफोर्ड स्कूल ऑफ एक्सीलेंस 5 मुन्सिपल पार्टी देहरादून, द इण्डियन कैम्ब्रिज स्कूल 12 चन्द्र रोड डालनवाला देहरादून सहित एक दर्जन से अधिक अन्य स्कूलों को कारण बताओ नोटिस जारी करते हुए 8 बिन्दुओं पर जबाव तलब किया है कि विद्यालय में पूर्व प्रेषित पत्रध्निर्देश के अनुपालन नहीं किया जा रहा और छात्र.छात्रएं पूरी आस्तीन की ड्रेस व जुराबे पहनकर विद्यालय में नहीं आ रहे हैं जिससे वैक्टर जनित रोग फैलने की संभावना है। जिस पर उन्होंने आज ही कारण बताओ नोटिस का जवाब मांगा है। संतोषजनक एवं औचित्यजनक स्पष्टीकरण न पाये जाने पर शासन की ओर से जारी अनापत्ति पत्र की शर्तों एवं निशुल्क और अनिवार्य बाल शिक्षा का अधिकारी अधिनियम 2009 के प्राविधानानुसार आवश्यक कार्यवाही अमल में लाई जाएगी।

editor

editor

Leave a Reply

Your email address will not be published.