पश्चिम बंगाल के टीएमसी नेता की हत्या के बाद हिंसा भड़की, 10-12 घरों को लगाई आग, 10 लोगों की जलकर मौत

पश्चिम बंगाल के टीएमसी नेता की हत्या के बाद हिंसा भड़की, 10-12 घरों को लगाई आग, 10 लोगों की जलकर मौत

पश्चिम बंगाल के बीरभूम के रामपुरहाट  में टीएमसी नेता की हत्या के बाद मंगलवार को हिंसा भड़क गई। यहां भीड़ ने 10-12 घरों के दरवाजे को बंद कर आग लगा दी। आग से 10 लोगों की जलकर मौत हो गई। बताया जा रहा है कि रामपुरहाट में बरशल ग्राम पंचायत के उप प्रमुख भादु शेख  की हत्या का बदला लेने के लिए इस घटना को अंजाम दिया गया है। घटना के बाद फायर ब्रिगेड मौके पर पहुंच गई। इतना ही नहीं डीएम समेत बीरभूम के तमाम बड़े अफसर भी मौके पर पुहंच गए हैं। पुलिस ने मामले की जांच शुरू कर दी है।तनाव को देखते हुए इलाके में बड़ी संख्या में अतिरिक्त पुलिस बलों की तैनाती की गई है। 

समाचार एजेंसी एएनआई के मुताबिक दमकल अधिकारी, बीरभूम ने बताया कि घटना कल रात की है,10-12 घर थे ,जो जल चुके हैं, कुल 10 लोगों की मृत्यु हुई है जिनकी बॉडी रिकवर की गई है। एक ही घर से 7 लोगों के शव निकाले गए हैं। 

पुलिस सूत्रों का कहना है कि यह राजनीतिक रंजिश का मामला है। उल्लेखनीय है कि तृणमूल कांग्रेस के कब्जे वाली बरशल ग्राम पंचायत के उप प्रमुख भादु शेख की सोमवार शाम को हत्या कर दी गई थी। उन पर बम से हमला हुआ था। भादू शेख की मौत की खबर जंगल में लगी आग की तरह फैली। हत्या से गुस्साए उनके समर्थकों ने थोड़ी ही देर में इस हमले के संदिग्धों के घरों में आग लगा दी। पुलिस ने मौके से कई शव बरामद किए हैं।

हालांकि इस घटना से व्यापक तनाव का माहौल है। जिले के वरिष्ठ पुलिस अधिकारी घटनास्थल पर हैं। तनाव को देखते हुए इलाके में बड़ी संख्या में अतिरिक्त पुलिस बलों की तैनाती की गई है।

editor

editor

Leave a Reply

Your email address will not be published.