अग्निपथ योजना को लेकर चल रहे आंदोलन को लेकर उत्‍तराखंड पुलिस विभाग ने कोचिंग संस्थानों पर भी निगाह रखनी शुरू की

अग्निपथ योजना को लेकर चल रहे आंदोलन को लेकर उत्‍तराखंड पुलिस विभाग ने कोचिंग संस्थानों पर भी निगाह रखनी शुरू की

देहरादून : अग्निपथ योजना को लेकर चल रहे आंदोलन को लेकर उत्‍तराखंड पुलिस विभाग ने कोचिंग संस्थानों (कोचिंग सेंटर) पर भी निगाह रखनी शुरू कर दी है। पुलिस ने युवाओं को जागरूक करने की जिम्मेदारी कोचिंग संस्थानों के संचालकों को दी है। साथ ही सभी जिलों के पुलिस कप्तानों से युवाओं की कोचिंग संस्थान के साथ ही स्वयं भी काउंसिलिंग करने के निर्देश दिए हैं।

सभी पुलिस अधीक्षकों को निर्देश – युवा को समझाएं

पुलिस महानिदेशक अशोक कुमार ने युवाओं से शांति बनाए रखने की अपील करने के साथ ही सभी पुलिस अधीक्षकों को निर्देश दिए हैं कि युवा को समझाएं। उन्हें यह बताए कि उन्हें आंदोलन चलाना भी है तो शांतिपूर्वक तरीके से चलाएं अग्निपथ योजना के विरोध में उत्तराखंड में जगह-जगह प्रदर्शन हो रहे हैं। कुमाऊं मंडल में युवा धरना प्रदर्शन व सड़क जाम कर रहे हैं। वहीं, गढ़वाल मंडल में देहरादून, पौड़ी व चमोली में भी प्रदर्शन किया जा रहा है।

अन्य राज्यों में हो रहे उपद्रव को देखते हुए उत्तराखंड में पुलिस महानिदेशक अशोक कुमार ने सभी जिला प्रभारियों को अलर्ट रहने के निर्देश दिए हैं। कुछ राज्यों में कोचिंग संस्थान की भूमिका संदिग्ध पाई गई है। हालांकि, पुलिस के अनुसार अभी तक उनके पास इस तरह की कोई जानकारी नहीं है, लेकिन एहतिहात के तौर पर कोचिंग संस्थान के संचालकों से बात की जा रही है।

डीजीपी ने कहा कि बड़ी संख्या में युवा कोचिंग सेंटर में कोचिंग लेते हैं। उनको बेहतर तरीके से समझाने के लिए सेंटर के संचालकों की मदद ली जा रही है। डीजीपी ने कहा कि प्रदेश में किसी भी कीमत पर माहौल नहीं बिगडऩे दिया जाएगा। यदि कोई व्यक्ति असंवैधानिक तरीके से विरोध प्रदर्शन करके शांति एवं कानून व्यवस्था प्रभावित करता है, तो उसके खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी। उन्होंने सभी जिला प्रभारियों से अपने जिला मजिस्ट्रेट के साथ समन्वय स्थापित करते हुए सेक्टर मजिस्ट्रेट नियुक्त करने और समय से आवश्यक पुलिस प्रबंध सुनिश्चित करने के निर्देश दिए हैं।

डीजीपी ने दिए निर्देश

  • जिला मुख्यालयों, महत्वपूर्ण संस्थानों, राष्ट्रीय राजमार्ग, रेल मार्ग, रेलवे स्टेशनों, बस अड्डा, बाजार, भीड वाले स्थलों और महत्वपूर्ण स्थलों पर आवश्यकतानुसार पुलिस व पीएसी बल को दंगा नियंत्रण उपकरणों, टियर गैस आदि के साथ नियुक्त किया जाए।
  • यातायात को सुचारू संचालित कराने के लिए पूर्व से एक कार्ययोजना तैयार कर ली जाए व आवश्यकतानुसार उसका उपयोग किया जाए।
  • जिला प्रभारी स्वयं भी लगातार छोटी से छोटी घटनाओं पर नियमानुसार कार्रवाई कराते हुए कार्यक्रमों की फोटोग्राफी एवं वीडियोग्राफी अवश्य कराएं।
  • जिले में स्थापित इंटरनेट मीडिया मानिटरिंग सेल, इंटरनेट मीडिया प्रमोशन सेल और साइबर सेल के माध्यम से इंटरनेट मीडिया पर प्रसारित होने वाली खबरों पर भी नजर रखें और तत्काल उनका खंडन कराते हुए संबंधित व्यक्तियों के खिलाफ कार्रवाई करें।

भविष्य की चिंता छोड़कर वर्तमान फोकस करें युवा : एसएसपी

अग्निपथ योजना के विरोध में देशभर में चल रहे विरोध प्रदर्शन के बीच उत्तराखंड पुलिस ने नौजवानों को जागरूक करना शुरू कर दिया है। देहरादून जिले के एसएसपी जन्मेजय खंडूड़ी ने परेड ग्राउंड में विभिन्न प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी कर रहे युवाओं को योजना को लेकर जागरूक किया। साथ ही प्रतियोगी परीक्षाओं में सफलता प्राप्त करने के लिए उनका मार्गदर्शन किया।

एसएसपी ने कहा कि नौजवानों को अपने जीवन में एक लक्ष्य निर्धारित करते हुए पूरी मेहनत व लगन के साथ उसे प्राप्त करने के लिए आगे बढऩा चाहिए। लक्ष्य प्राप्ति के दौरान कई लोग आपको मार्ग से विचलित करने का प्रयास करेंगे, लेकिन इससे विचलित हुए बिना आपको अपनी तैयारियों में निरंतर लगे रहना है।

उन्होंने कहा कि आने वाले समय का अनुमान लगाना मुश्किल होता है पर जब हम किसी के बहकावे में आकर अपना कीमती समय व्यर्थ करते हैं तो उस समय हमें इसका एहसास नहीं होता पर भविष्य में जब हम अपने साथ के लोगों को आगे बढ़ते हुए देखते हैं तब हमें एहसास होता है कि हमने क्या खोया, लेकिन तब तक काफी देर हो चुकी होती है। इसलिए आने वाले समय में क्या होगा इसकी चिंता छोड़कर हमें अपने वर्तमान में फोकस करना चाहिए। ध्यान रहें कि यदि आप अपने लक्ष्य के प्रति एकाग्र चित्त होकर पूरी मेहनत के साथ आगे बढ़ेंगे तो निश्चित ही आपका आने वाला भविष्य सुनहरा होगा।

अग्निपथ के नाम पर युवाओं से मजाक कर रही केंद्र सरकार : आप

आम आदमी पार्टी के प्रदेश संगठन समन्वयक जोत सिंह बिष्ट ने अग्निपथ योजना को लेकर केंद्र सरकार पर निशाना साधा है। उन्होंने कहा कि अग्निपथ योजना के नाम पर सरकार देश के युवाओं के साथ मजाक कर रही है। शुक्रवार को देहरादून में पार्टी के प्रदेश कार्यालय में पत्रकारों से वार्ता में बिष्ट ने कहा कि भारतीय सेना हमारे देश की शान है। बीते दो साल से सेना में भर्ती नहीं होने से पद रिक्त पड़े हैं, लेकिन सरकार ने इन पदों को भरने के बजाय चार साल की संविदा भर्ती का प्रस्ताव किया है। उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार का यह फैसला सेना के मनोबल को कमजोर करने वाला है।

पीएम के खिलाफ अभद्र शब्दों का प्रयोग पर अज्ञात के खिलाफ मुकदमा

अग्निपथ योजना के विरोध में कोटद्वार में हुए प्रदर्शन के दौरान कुछ युवाओं के प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के लिए अभद्र शब्दों के प्रयोग करने का मामला प्रकाश में आया है। पुलिस ने अज्ञात के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया है। कोतवाली प्रभारी विजय सिंह ने बताया कि जुलूस के वीडियो फुटेज जांच के दौरान इस बात की पुष्टि हुई। अभी इस मामले में अज्ञात के खिलाफ मामला दर्ज किया है। मामले की जांच की जा रही है।

editor

editor

Leave a Reply

Your email address will not be published.