नवाब मलिक ने राज्यसभा चुनाव में वोट डालने के लिए एक दिन की जमानत की मांग करते हुए अदालत का दरवाजा खटखटाया

नवाब मलिक ने राज्यसभा चुनाव में वोट डालने के लिए एक दिन की जमानत की मांग करते हुए अदालत का दरवाजा खटखटाया

मनी लान्ड्रिंग से जुड़े एक मामले में गिरफ्तारी के बाद जेल में बंद महाराष्ट्र के मंत्री नवाब मलिक ने सोमवार को राज्य की छह सीटों पर होने वाले राज्यसभा चुनाव में वोट डालने के लिए एक दिन की जमानत की मांग करते हुए सोमवार को यहां एक विशेष अदालत का दरवाजा खटखटाया। पिछले हफ्ते, महाराष्ट्र के पूर्व गृह मंत्री अनिल देशमुख, जो मनी लान्ड्रिंग के आरोप में जेल में हैं, ने भी इसी तरह का एक आवेदन दायर किया था।

सोमवार को, मुंबई में एक विशेष अदालत, जिसे मनी लान्ड्रिंग रोकथाम अधिनियम से संबंधित मामलों की सुनवाई के लिए नामित किया गया, ने प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) को दोनों आवेदनों (मलिक और देशमुख) पर अपना हलफनामा दाखिल करने का निर्देश दिया।

ईडी ने जवाब दाखिल करने के लिए मांगा समय

ईडी ने नवाब मलिक और अनिल देशमुख की अर्जी पर जवाब दाखिल करने के लिए समय मांगा है। दोनों ने महाराष्ट्र में होने वाले राज्यसभा चुनाव में वोट देने की इजाजत मांगी है। ईडी को कल तक जवाब दाखिल करना है। सुनवाई की अगली तारीख 8 जून है। राज्यसभा चुनाव 10 जून को होने हैं।

ईडी ने 23 फरवरी को मलिक को किया गिरफ्तार

ईडी ने मलिक को इस साल 23 फरवरी को भगोड़े गैंगस्टर दाऊद इब्राहिम और उसके सहयोगियों की गतिविधियों से जुड़ी मनी लान्ड्रिंग जांच के सिलसिले में गिरफ्तार किया था। राकांपा नेता ने अपने आवेदन में 10 जून को एक दिन के लिए जमानत पर रिहा करने की मांग की थी।

मलिक ने याचिका में क्या कहा

मलिक ने अपनी याचिका में दावा किया कि वह एक निर्वाचित विधायक हैं। इसलिए राज्यसभा के लिए एक प्रतिनिधि का चुनाव करने में और अपने निर्वाचन क्षेत्र के निवासियों का प्रतिनिधित्व करने के लिए बाध्य हैं। उन्होंने कहा कि वह द्विवार्षिक चुनावों में अपना वोट डालने के इच्छुक भी हैं। 288 सदस्यीय महाराष्ट्र विधानसभा राज्यसभा चुनाव के लिए निर्वाचक मंडल बनाती है।

राकांपा के दो विधायक जेल में

राकांपा के दो विधायक देशमुख और मलिक फिलहाल जेल में हैं, जबकि एक सीट खाली पड़ी है। चार मुख्य दलों शिवसेना, राकांपा, कांग्रेस और भाजपा के अलावा विधानसभा में छोटे दलों के और निर्दलीय 25 विधायक हैं। प्रति उम्मीदवार प्रभावी चुनाव कोटा 42 है।

धनंजय महादिक और संजय पवार के बीच मुकाबला

सदन में 106 सदस्यों वाली भाजपा ने केंद्रीय मंत्री पीयूष गोयल, अनिल बोंडे और धनंजय महादिक को नामित किया है। राकांपा ने पूर्व केंद्रीय मंत्री प्रफुल्ल पटेल को फिर से उम्मीदवार बनाया है, जबकि कांग्रेस ने इमरान प्रतापगढ़ी को मैदान में उतारा है। शिवसेना के उम्मीदवार संजय राउत और संजय पवार हैं. छठी राज्यसभा सीट के लिए चुनावी मुकाबला भाजपा के धनंजय महादिक और शिवसेना के संजय पवार के बीच है।

editor

editor

Leave a Reply

Your email address will not be published.