चमोली में मैक्स वाहन दुर्घटनाग्रस्त, दो लोगों की मौत, नौ घायल

चमोली में मैक्स वाहन दुर्घटनाग्रस्त, दो लोगों की मौत, नौ घायल

चमोली: केदारनाथ यात्रा में घोड़े खच्चर चलाने के लिए निकले पाणा और ईराणी गांव के लोगों का वाहन दुर्घटनाग्रस्त हो गया। जिसमें दो युवाओं की मौत हो गई, जबकि चालक सहित नौ लोग घायल हैं। घायलों को जिला चिकित्सालय गोपेश्वर में भर्ती किया गया। गंभीर रूप से घायल दो युवकों को हायर सेंटर रेफर कर दिया गया है।

चारधाम यात्रा के दौरान घोड़े खच्चर चलाने के लिए क्षेत्र के लोग बड़ी संख्या में केदारनाथ जाते हैं। रविवार को पाणा और ईराणी गांव के कुछ लोग घोड़े खच्चरों के साथ केदारनाथ के लिए निकले। रास्ते में उन्हें एक मैक्स वाहन मिला, जिसमें 10 युवक सवार होकर चमोली के लिए निकले। जबकि उनके कुछ साथी घोड़े खच्चरों को लेकर पीछे से पैदल आ रहे थे। इन युवाओं को चमोली पहुंचकर रात को रहने और खाने की व्यवस्था करनी थी। लेकिन कुछ किमी चलने के बाद गाड़ी गांव के पास दोपहर करीब डेढ बजे मैक्स खाई में जा गिरी।

वाहन गिरने की आवाज सुनकर गाड़ी गांव के लोग मौके पर दौड़े और खाई में उतरकर घायलों को निकालना शुरू किया। सूचना पर पुलिस भी मौके पर पहुंच गई। पुलिस और ग्रामीणों की मदद से सभी घायलों को एंबुलेंस और स्थानीय वाहनों की मदद से जिला चिकित्सालय पहुंचाया। जहां चिकित्सकों ने संजय नेगी (24 साल) पुत्र कलम सिंह और टिकेंद्र राम (23 साल) पुत्र सबला राम दोनों निवासी ईराणी को मृत घोषित कर दिया। जबकि बालप सिंह (26 साल) पुत्र हर सिंह, जसपाल सिंह (30 साल) पुत्र उदय सिंह, जगदीश सिंह वाहन चालक (23 साल) पुत्र कुंवर सिंह, सोहन कुमार (21 साल) पुत्र स्व. कुंदनी राम, मुकेश कुमार (22 साल) पुत्र गडरी राम, मनवर सिंह (24 साल) पुत्र मोहन सिंह, राहुल सिंह (22 साल) पुत्र स्व. धर्म सिंह, गोपी नेगी (18 साल) पुत्र कुंवर सिंह सभी निवासी ग्राम ईराणी और मनोज सिंह (26 साल) पुत्र रघुवीर सिंह निवासी ग्राम पाणा घायल हो गए हैं। जिन्हें जिला चिकित्सालय गोपेश्वर में भर्ती किया गया। यहां से सोहन और बालप सिंह को रेफर कर दिया गया। दुर्घटना की सूचना पर संयुक्त मजिस्ट्रेट अभिनव शाह भी अस्पताल पहुंचे और घायलों की जानकारी ली।

पाणा ईराणी से खच्चरों के साथ करीब 35 किमी पैदल चलकर गाड़ी गांव के पास पहुंच चुके थे। यहां से वाहन में बैठे और मात्र 100 मीटर आगे चले कि वाहन खाई में जा गिरा। ईराणी के ग्राम प्रधान मोहन नेगी ने बताया कि इन लोगों को बिरही में घोड़ा पड़ाव में रुकना था। कुछ लोगों को लेकर वाहन चालक बिरही छोड़ चुका था और अन्य लोगों को लेने के लिए वापस गया। गाड़ी गांव के पास उन्हें वाहन मिल गया और वह उसमें सवार होकर चलने लगे। लेकिन 100 मीटर आगे जाते ही वाहन खाई में जा गिरा।

editor

editor

Leave a Reply

Your email address will not be published.