IND vs SA 3rd T20: भारत ने दक्षिण अफ्रीका को 48 रन से हराया, ईशान-ऋतुराज चमके

IND vs SA 3rd T20: भारत ने दक्षिण अफ्रीका को 48 रन से हराया, ईशान-ऋतुराज चमके

विशाखापट्टनम: भारत ने टी-20 सीरीज में शानदार वापसी की है। पांच मैचों की सीरीज के तीसरे टी-20 में टीम इंडिया ने दक्षिण अफ्रीका को 48 रन से हरा दिया है। विशाखापट्टनम के डॉ. वाईएस राजशेखर रेड्डी क्रिकेट स्टेडियम में खेले गए मुकाबले में दक्षिण अफ्रीका के कप्तान तेम्बा बावुमा ने टॉस जीतकर पहले गेंदबाजी का फैसला लिया।

भारत ने पहले बल्लेबाजी करते हुए 20 ओवर में पांच विकेट गंवाकर 179 रन बनाए। जवाब में दक्षिण अफ्रीका की पारी 19.1 ओवर में 131 रन पर सिमट गई। बतौर कप्तान ऋषभ पंत ने अपना पहला अंतरराष्ट्रीय मैच जीता। इससे पहले दो मैचों में उन्हें हार मिली थी।

फिलहाल दक्षिण अफ्रीकी टीम सीरीज में 2-1 से आगे है। सीरीज का चौथा मैच 17 जून को राजकोट में खेला जाएगा। युजवेंद्र चहल को प्लेयर ऑफ द मैच अवॉर्ड मिला। भारत को दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ लगातार सात मैचों में हार के बाद जीत मिली है। भारतीय टीम इस साल दक्षिण अफ्रीकी दौरे पर दो टेस्ट और लगातार तीन वनडे मैच हारी थी। वहीं, टीम इंडिया को लगातार दो टी-20 में हार का सामना करना पड़ा था। अब जाकर भारत ने जीत हासिल की है।

फिलहाल दक्षिण अफ्रीकी टीम सीरीज में 2-1 से आगे है। सीरीज का चौथा मैच 17 जून को राजकोट में खेला जाएगा। युजवेंद्र चहल को प्लेयर ऑफ द मैच अवॉर्ड मिला। भारत को दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ लगातार सात मैचों में हार के बाद जीत मिली है। भारतीय टीम इस साल दक्षिण अफ्रीकी दौरे पर दो टेस्ट और लगातार तीन वनडे मैच हारी थी। वहीं, टीम इंडिया को लगातार दो टी-20 में हार का सामना करना पड़ा था। अब जाकर भारत ने जीत हासिल की है।

टॉस हारकर पहले बल्लेबाजी करते हुए टीम इंडिया की शुरुआत शानदार रही। ऋतुराज गायकवाड़ और ईशान किशन ने मिलकर भारत को 10 ओवर में 97 के स्कोर तक पहुंचाया। इस बीच एनरिक नॉर्त्जे के पांचवें ओवर में लगातार पांच चौके लगे। ये पांचों चौके ऋतुराज के बल्ले से आए। ऋतुराज ने 30 गेंदों पर टी-20 अंतरराष्ट्रीय करियर का पहला अर्धशतक लगाया। 

उन्होंने ईशान किशन के साथ मिलकर भारतीय टीम को तेज शुरुआत दिलाई। 10वें ओवर की आखिरी गेंद पर ऋतुराज अपना विकेट गंवा बैठे। वे 35 गेंदों पर सात चौके और दो छक्के लगाकर आउट हुए। ऋतुराज के विकेट के बाद टीम इंडिया की पारी लड़खड़ा गई। श्रेयस अय्यर कुछ खास नहीं कर सके और 13वें ओवर की आखिरी गेंद पर तबरेज शम्सी की गेंद पर नॉर्त्जे को कैच थमा बैठे। श्रेयस 11 गेंदों 14 रन बना सके। इसमें दो छक्के शामिल हैं।

इस बीच ईशान ने भी 31 गेंदों पर अर्धशतक जमाया। यह उनके टी-20 अंतरराष्ट्रीय करियर का चौथा और इस सीरीज का दूसरा अर्धशतक रहा। हालांकि, 14वें ओवर में ईशान भी अपना विकेट गंवा बैठे। वे 35 गेंदों पर पांच चौके और दो छक्के की मदद से 54 रन बनाकर आउट हुए। ईशान को प्रिटोरियस ने हेंड्रिक्स के हाथों कैच कराया। इसके बाद दक्षिण अफ्रीका के फील्डर्स ने कप्तान ऋषभ पंत और उपकप्तान हार्दिक पांड्या, दोनों को जीवनदान दिया। 

15वें ओवर में तबरेज शम्सी की गेंद पर डेविड मिलर ने हार्दिक पांड्या का कैच छोड़ा। तब पांड्या एक रन बनाकर बल्लेबाजी कर रहे थे। इसके बाद 16वें ओवर की पहली गेंद पर प्रिटोरियस की गेंद पर डुसेन ने पंत का कैच छोड़ा। तब पंत चार रन बनाकर बल्लेबाजी कर रहे थे। हालांकि, पंत इस जीवनदान का फायदा नहीं उठा सके और इस ओवर की आखिरी गेंद पर खराब शॉट खेलकर विकेट गंवा बैठे। 

16वें ओवर की पांचवीं गेंद पर कप्तान ऋषभ पंत को प्रिटोरियस ने तेम्बा बावुमा के हाथों कैच कराया। वे आठ गेंदों पर छह रन बना सके। पंत का फॉर्म इस सीरीज में खराब रहा है। पहले टी-20 में पंत 16 गेंदों में 29 रन, दूसरे टी-20 में सात गेंदों में पांच रन बना सके थे। दिनेश कार्तिक इस मैच में कुछ खास नहीं कर सके और आठ गेंदों पर छह रन बनाकर आउट हुए। आखिरी ओवर में भारत ने 12 रन बटोरे और इस तरह टीम इंडिया 179 के स्कोर तक पहुंच पाई।

हार्दिक 21 गेंदों पर 31 रन और अक्षर पटेल दो गेंदों पर पांच रन बनाकर नाबाद रहे। आखिरी सात ओवर में भारत ने सिर्फ 51 रन बनाए। टीम इंडिया अच्छी शुरुआत को बड़े स्कोर में नहीं तब्दील कर सकी। दक्षिण अफ्रीका की ओर से ड्वेन प्रिटोरियस ने सबसे ज्यादा दो विकेट झटके। वहीं, कगिसो रबाडा, तबरेज शम्सी और केशव महाराज को एक-एक विकेट मिला।

180 रन के लक्ष्य का पीछा करने उतरी दक्षिण अफ्रीकी टीम की शुरुआत खराब रही। कप्तान तेम्बा बावुमा के रूप में टीम को पहला झटका लगा। उन्हें अक्षर पटेल ने आवेश खान के हाथों कैच कराया। वे आठ रन बनाकर आउट हुए। 23 पर दक्षिण अफ्रीका को पहला झटका लगा। इसके बाद रीजा हेंड्रिक्स भी कुछ खास नहीं कर सके। उन्हें हर्षल पटेल ने चहल के हाथों कैच कराया। हेंड्रिक्स 20 गेंदों पर 23 रन बना सके।

इसके बाद युजवेंद्र चहल स्पेशल देखने को मिला। उन्होंने रसी वान डर डुसेन को और फिर ड्वेन प्रिटोरियस को विकेटकीपर पंत के हाथों कैच कराया। डुसेन एक रन और प्रिटोरियस 20 रन बना सके। इसके बाद डेविड मिलर को हर्षल पटेल ने ऋतुराज गायकवाड़ के हाथों कैच कराया। मिलर तीन रन बना सके। वहीं, पिछले मैच के हीरो रहे हेनरिक क्लासेन को चहल ने अक्षर के हाथों कैच कराया। क्लासेन इस मैच में 24 गेंदों पर 29 रन बना सके। 

चहल ने इस मैच में चार ओवर में 20 रन देकर तीन विकेट झटके। वहीं, रबाडा को हर्षल पटेल ने आउट कर इस मैच में अपना तीसरा विकेट झटका। रबाडा नौ रन बना सके। 19वें ओवर में दक्षिण अफ्रीका को दो झटके लगे। इस ओवर में पहले भुवनेश्वर कुमार ने केशव महाराज को कार्तिक के हाथों कैच कराया। महाराज 11 रन बना सके। इसके बाद ओवर की पांचवीं गेंद पर एनरिक नॉर्त्जे (0) रन आउट हो गए। 

आखिरी ओवर की पहली गेंद पर हर्षल ने तबरेज शम्सी (0) को आवेश खान के हाथों कैच कराया और टीम इंडिया को जीत दिलाई। हर्षल भारत की ओर से सबसे सफल गेंदबाज रहे। उन्होंने 3.1 ओवर में 25 रन देकर चार विकेट झटके। वहीं, चहल को तीन विकेट मिले। भुवनेश्वर कुमार और अक्षर को एक-एक विकेट मिला।

editor

editor

Leave a Reply

Your email address will not be published.