पटियाला में कबड्डी खिलाड़ी की हत्या कर फरार हुए गैंगस्टर उत्तराखंड पुलिस की टीम के साथ देहरादून से गिरफ्तार ~

पटियाला में कबड्डी खिलाड़ी की हत्या कर फरार हुए गैंगस्टर उत्तराखंड पुलिस की टीम के साथ देहरादून से गिरफ्तार

पटियाला में कबड्डी खिलाड़ी की हत्या कर फरार हुए गैंगस्टर उत्तराखंड पुलिस की टीम के साथ देहरादून से गिरफ्तार

पटियाला (पंजाब) में कबड्डी खिलाड़ी की हत्या कर फरार हुए गैंगस्टर लारेंस बिश्नोई गैंग के शूटर को उत्तराखंड पुलिस की स्पेशल टास्क फोर्स (एसटीएफ) ने पंजाब पुलिस की टीम के साथ देहरादून से गिरफ्तार किया है।

एसएसपी एसटीएफ अजय सिंह ने बताया कि बीते पांच अप्रैल की रात को दौणकलां पटियाला निवासी हरवीर सिंह ने अपने छह साथियों के साथ मिलकर कबड्डी खिलाड़ी धरमिंद्र सिंह उर्फ भिंदा की पंजाबी यूनिवर्सिटी के निकट गोली मारकर हत्या कर दी थी।

एसटीएफ पंजाब ने 14 अप्रैल की शाम को संपर्क किया

इस मामले में थाना अर्बन स्टेट, पटियाला में हरवीर सिंह सहित अन्य के खिलाफ हत्या का मुकदमा दर्ज किया गया था। घटना के बाद से ही सभी बदमाश फरार चल रहे थे। बदमाशों की तलाश के लिए एसटीएफ पंजाब ने 14 अप्रैल की शाम को एसटीएफ देहरादून से संपर्क किया।

एसटीएफ देहरादून ने मामले की गंभीरता को समझते हुए तीन-चार दिन में बाहर से आने वाले व्यक्तियों की तलाश के लिए सभी होटलों और हास्टल के बारे में जानकारी जुटाई। एसटीएफ को सूचना मिली थी कि दो दिन पूर्व ही मांडूवाला, प्रेमनगर में एक लड़का बाहर से आकर रुका है।

दोनों तरफ से ताबड़तोड़ फायरिंग

एसटीएफ देहरादून व एसटीएफ पंजाब ने मांडूवाला में सामूहिक तौर पर दबिश दी और बदमाश हरवीर को गिरफ्तार कर लिया। पूछताछ में हरवीर ने बताया कि उसकी जुगनू के साथ रंजिश चल रही थी। रंजिश के चलते पांच अप्रैल को जुगनू ने अपने अन्य साथियों को बुला लिया तो हरवीर ने भी अपने छह-सात साथियों को बुलाया।

दोनों तरफ से ताबड़तोड़ फायरिंग की गई, जिसमें धरमिंद्र सिंह भिंदा की पीठ में गोली लग गई और उसकी मृत्यु हो गई। घटना के बाद हरवीर अपने अन्य साथियों के साथ चंडीगढ़ पहुंच गया, जहां से सभी लोग अलग-अलग जगह निकल गए। हरवीर बस से देहरादून आया और देहरादून में एकांत जगह की तलाश करते हुए मांडूवाला में आकर रुक गया।

एसएसपी ने बताया कि हरवीर गैंगस्टर लारेंस बिश्नोई के गैंग का सदस्य है जोकि वर्तमान में तिहाड़ जेल दिल्ली में बंद है। हरवीर को एसटीएफ पंजाब के सुपुर्द किया गया।

editor

editor

Leave a Reply

Your email address will not be published.