90 परियोजनाओं का शिलान्यास और 26 का लोकार्पण करने के लिए मंख्‍यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ जाैनपुर जिले में पहुंचे ~

90 परियोजनाओं का शिलान्यास और 26 का लोकार्पण करने के लिए मंख्‍यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ जाैनपुर जिले में पहुंचे

90 परियोजनाओं का शिलान्यास और 26 का लोकार्पण करने के लिए मंख्‍यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ जाैनपुर जिले में पहुंचे

जौनपुर, जौनपुर में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ शुक्रवार को कार्यक्रम स्थल पूर्वांचल विश्वविद्यालय से 90 परियोजनाओं का शिलान्यास व 26 का लोकार्पण करेंगे। शिलान्यास करने वाली परियोजना में 14 सड़क व 76 अन्य निर्माण की हैं, जिनकी कुल लागत 24191.53 लाख है। वहीं लोकार्पित परियोजनाओं में 19 सड़क व अन्य निर्माण की सात हैं, जिनकी कुल लागत 1633.40 लाख है। हेलीपैड से लेकर कार्यक्रम स्थल मार्ग में सभास्थल के बीच में विभिन्न विभागों की तरफ से सरकार से जुड़ी योजनाओं की प्रदर्शनी लगाई जाएगी। सीएम के कार्यक्रम स्थल में करंजाकला के 50 महिला शिक्षकों को लगाकर आकर्षक रंगोली बनवाई गई है।

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ शुक्रवार को जिले में दो घंटे पच्चीस मिनट रहेंगे। इसकी तैयारी जिला प्रशासन ने पूरी कर ली है। तैयारियों का जायजा गुरुवार को खेल एवं युवा कल्याण राज्यमंत्री गिरीश चंद्र यादव व जिलाधिकारी मनीष कुमार वर्मा ने लिया। उन्होंने विभिन्न विभागों के अधिकारियों के साथ मेडिकल कालेज, पचहटिया सीवरेज ट्रीटमेंट प्लांट व जनसभा स्थल पूर्वांचल विश्वविद्यालय का निरीक्षण किया। मुख्यमंत्री की सुरक्षा में चप्पे-चप्पे पर पुलिस फोर्स तैनात रहेगी। इसका खाका सुरक्षा एजेंसियों ने खींच लिया है।

मुख्यमंत्री सुबह दस बजे पूर्वांचल विश्वविद्यालय के एकलव्य स्टेडियम के हेलीपैड पर पहुंचेंगे। जहां राज्यमंत्री गिरीश चंद्र यादव मौजूद रहेंगे। इसके बाद मुख्यमंत्री उमानाथ सिंह स्वशासी चिकित्सा महाविद्यालय (मेडिकल कालेज) व सीवरेज ट्रीटमेंट प्लांट पंचहटिया का निरीक्षण करेंगे। इसके बाद पूर्वांचल विश्वविद्यालय में जनसभा को संबोधित करेंगे। 12 बजकर 25 मिनट पर गाजीपुर चले जाएंगे। हेलीपैड से लेकर जनसभा स्थल तक बरसात होने पर जलभराव से दिक्कत न हो इसके लिए इंटरलाकिंग कराई गई है। आठ हजार लोगों के बैठने के लिए वाटर प्रूफ टेंट में कुर्सियां लगाई गई हैं। दो टेंट में दो-दो हजार व एक में 3500 लोगों के बैठने का इंतजाम है। 500 वीआइपी की अलग से व्यवस्था की गई है। इसके अलावा 40-50 लोगों के लिए अलग केबिन बनाई गई है।

जनसभा स्थल पर लाइट, पंखा व एसी का भी पूरा इंतजाम है। मैदान में सिर्फ मुख्यमंत्री व जिला प्रशासन का ही वाहन जाएगा। अन्य सभी गाड़ियों का प्रवेश वर्जित रहेगा। निरीक्षण के दौरान कोई समस्या न हो इसके लिए गुरुवार को जिलाधिकारी जिम्मेदार लोगों को लगातार चेताते रहे। मेडिकल कालेज में देररात तक चलती रही तैयारीमुख्यमंत्री सबसे पहले मेडिकल का निरीक्षण करेंगे। इसके लिए मेडिकल कालेज प्रशासन देररात तक तैयारी में जुटा रहा। रंगाई, पोताई, साफ-सफाई के अलावा शैक्षणिक कक्ष व ओपीडी तक में व्यवस्थाएं होती रहीं। कालेज के निर्माणाधीन क्षेत्र को परदा लगाकर ढंका गया है।

मुख्यमंत्री मेडिकल कालेज में छात्रों से बातचीत कर सकते हैं। इसके लिए भी तैयारी चल रही थी। क्लास रूम व लैब की व्यवस्था दुरुस्त की गई है। मुख्यमंत्री के कार्यक्रम स्थल पर साफ-सफाई, झाड़-झंखाड़ की कटाई के लिए चार ब्लाक के 600 से अधिक सफाई कर्मचारियों को लगाया गया है, जो दस किमी की परिधि में साफ-सफाई का कार्य कर रहे हैं। इसके लिए शाहगंज (सोंधी), खुटहन, करंजाकला व धर्मापुर ब्लाक के करीब 600 सफाई कर्मियों को लगाया गया है। सड़क के किनारे पड़ी गिट्टियों को भी उठाकर ट्रैक्टर ट्राली के माध्यम से अन्यत्र स्थान पर भेजा जा रहा है।

मुख्यमंत्री के कार्यक्रम स्थल पूर्वांचल विश्वविद्यालय से लेकर पचहटिया तक सड़क के किनारे कीटनाशक दवाओं का छिड़काव किया गया है। वैश्विक महामारी कोरोना संक्रमण के बाद इन दिनों डेंगू का प्रकोप तेजी से बढ़ रहा है। जनपद में काफी संख्या में डेंगू के मरीज भी मिले हैं जिनका उपचार चल रहा है। इसी परिप्रेक्ष्य में मुख्य चिकित्सा अधिकारी ने कार्यक्रम स्थल का निरीक्षण किया, जिसके बाद स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों, कर्मचारियों के साथ बैठक की। दस किलोमीटर दूर तक सड़क के किनारे जगह-जगह कीटनाशक, मच्छरजनित दवाओं का छिड़काव कराया।

मुख्यमंत्री की सुरक्षा को लेकर विश्वविद्यालय परिसर पुलिस छावनी में तब्दील हो गया है। विभिन्न जनपदों से आए पुलिस अधिकारियों के साथ आइजी के. सत्यनारायण गुरुवार को बैठक कर आवश्यक दिशा-निर्देश दिया। सुरक्षा के विभिन्न बिंदुओं को लेकर चर्चा की। मुख्यमंत्री की सुरक्षा में किसी भी तरह की कोई चूक न हो इसके लिए पुलिस प्रशासन ने बारीकी से विभिन्न बिंदुओं पर विचार-विमर्श किया। सीएम के आगमन से लेकर प्रस्थान तक विभिन्न मेडिकल कालेज व पचहटिया के सीवरेज ट्रीटमेंट प्लांट के निरीक्षण व जनसभा स्थल पर सुरक्षा व्यवस्था पर किसी भी तरह की चूक न हो इसके लिए सभी को चेताया गया। मुख्यमंत्री के कार्यक्रम का प्रशासन ने किया पूर्वाभ्यासमुख्यमंत्री के कार्यक्रम का जिला व पुलिस प्रशासन ने गुरुवार को पूर्वाभ्यास किया। मुख्यमंत्री की अगवानी की जिम्मेदारी सीओ यातायात चोभ सिंह को दी गई है।

आइजी के. सत्यनारायण ने पुलिस अधिकारियों के साथ बैठक करने के बाद जिलाधिकारी मनीष कुमार वर्मा के साथ हेलीपैड व कार्यक्रम स्थल का निरीक्षण किया। कार्यक्रम स्थल पर बरसात होने की वजह से जमीन गीली हो गई है। सड़क खराब न हो इसलिए रिहर्सल मैदान में नहीं कराया गया। इसके अलावा सभी कार्यक्रम स्थल पर जिला व पुलिस प्रशासन के लोगों ने स्वास्थ्य विभाग के साथ पूर्वाभ्यास किया।

मार्ग रहेगा परिवर्तित : सुबह आठे बजे से मछलीशहर में प्रयागराज/प्रतापगढ़ की तरफ से आने वाली गाड़ियों को मछलीशहर से मड़ियाहूं रोड पर डायवर्ट किया जाएगा। पकड़ी तिराहे के पास यदि मछलीशहर से कोई बड़ा वाहन बाहर आ जाता है तो उसे पकड़ी तिराहे से हाइवे पर डायवर्ट कर दिया जाएगा।

-सुल्तानपुर रोड से आने वाले वाहन जो आजमगढ़ व शाहगंज की तरफ जाएंगे उनको बक्शा हाईवे पर ही सुबह आठ बजे से कार्यक्रम की समाप्ति तक रोका जाएगा।

-शाहगंज की ओर से आने वाले बड़े वाहन शाहगंज बार्डर पर ही रोके जाएंगे व छोटे वाहनों को कोईरीडीहा तिराहे से मोड़ दिए जाएंगे।

-आजमगढ़ रोड से आने वाले सभी छोटे वाहन, बड़े वाहन प्रसाद कालेज से केराकत की ओर मोड़े जाएंगे।

-भदोही की ओर से आने वाले बड़े वाहनों को मड़ियाहूं से जलालपुर की ओर मोड़ा जाएगा।

editor

editor

Leave a Reply

Your email address will not be published.