बिहार: सीबीआई की आरजेडी नेताओं के ठिकानों पर छापेमारी, बेनामी कागजात और भारी मात्रा में सोने के आभूषण बरामद ~

बिहार: सीबीआई की आरजेडी नेताओं के ठिकानों पर छापेमारी, बेनामी कागजात और भारी मात्रा में सोने के आभूषण बरामद

बिहार: सीबीआई की आरजेडी नेताओं के ठिकानों पर छापेमारी, बेनामी कागजात और भारी मात्रा में सोने के आभूषण बरामद

पटना। बिहार में सीबीआई ने एक साथ कई आरजेडी नेताओं के ठिकानों पर छापेमारी की। आरजेडी नेताओं ने आरोप लगाया कि बिहार में महागठबंधन सरकार बनने के बाद केन्द्र सरकार बदले की भावना में कार्रवाई कर रही है. लेकिन सीबीआई के विश्व्स्त सूत्रों की माने तो इन नेताओं के घर पर आकूत संपत्ति मिली है। बेनामी कागजात और भारी मात्रा में सोने के आभूषण बरामद किए गए. फिलहाल इसको लेकर सीबीआई की तरफ से कोई अधिकारिक पुष्टि नहीं की गयी।

सूत्रों के अनुसार आरजेडी नेताओं के ठिकानों पर की गई सीबीआई छापेमारी में 200 से अधिक जमीन के डीड बरामद हुआ है. इसके अलावा 20 किलो से भी ज्यादा सोने की ज्वेलरी बरामद किए गए। यही नहीं राजद के एमएलसी सुनील कुमार सिंह के ठिकानों से दिल्ली के गुड़गांव स्थित बन रहे मॉल का पेपर भी बरामद हुआ है. छापेमारी में भारी संख्या में नगद भी मिला है। इधर, छापे को लेकर बुधवार को दिन भर बिहार में गहमागहमी का माहौल बना रहा।

केंद्रीय जांच एजेंसी सीबीआई की टीम पटना, कटिहार और मधुबनी में कई ठिकानों पर छापेमारी कर रही है। सीबीआई ने जिन आरजेडी नेताओं पर शिकंजा कसा है, उसमें आरजेडी एमएलसी सुनील सिंह, पूर्व आरजेडी एमएलसी सुबोध राय, राज्यसभा सांसद अशफाक करीम और फैयाज अहमद शामिल हैं. इसके साथ ही सीबीआई ने गुरुग्राम के सेक्टर 71 में स्थित अर्बन क्यूबस मॉल में भी छापेमारी चल रही है. जमीन के बदले नौकरी देने के मामले में सीबीआई ने अपना शिकंजा कसना शुरू कर दिया है. माना जा रहा है कि आगे भी यह कार्रवाई चलेगी कई और इसकी जद में आरजेडी के कई नेता आ सकते हैं।मधुबनी में बुधवार सुबह सीबीआई की टीम ने आरजेडी के राज्यसभा सांसद डॉ फैयाज अहमद के आवास पर छापेमारी की। आवास पर भारी पुलिस बल की तैनाती की गई है. सीबीआई की टीम बुधवार की सुबह 4 बजे ही पहुंची थी. छापेमारी के दौरान कई अहम कागजात और काफी रुपये मिलने की सूचना है. हालांकि, इस पर सीबीआई की ओर कोई अधिकारिक बयान नहीं है।

बिहार के डिप्टी सीएम तेजस्वी यादव के गुरूग्राम स्थित अर्बन क्यूब्स मॉल में भी बुधवार को सीबीआई ने छापेमारी की है। जानकारी के अनुसार, इस मॉल में तेजस्वी यादव की हिस्सेदारी है। ये मामला भी नौकरी के बदले जमीन से जुड़ा बताया जा रहा है. दरअसल, आरोप ये है कि जब लालू यादव रेल मंत्री थे, तो उस दौरान उन्होंने रेलवे में नौकरी के बदले कई जगहों पर जमीन लिखवाई थी. इसमें आरोप है कि तेजस्वी यादव के नाम भी कई जमीन लिखवाई गई थी. हालांकि, तेजस्वी उस वक्त नाबालिग थे।

आरजेडी नेता सुनील कुमार सिंह के ठिकाने पर भी सीबीआई की छापेमारी हुई। सुनील कुमार सिंह पार्टी के कोषाध्यक्ष भी हैं. सुनील कुमार सिंह लालू परिवार के करीबी भी माने जाते हैं। सीबीआई ने यह रेड जेडी विमेंस कालेज के पास स्थित एक अपार्टमेंट में की है, जहां पर सुनील सिंह रहते हैं। सीबीआई की कार्रवाई की खबर सुनते ही सुनील कुमार के सैकड़ों समर्थक उनके घर के बाहर पहुंच गए हैं और सीबीआई के खिलाफ जमकर नारेबाजी कर करने लगे।

सुनील सिंह ने कहा कि सीबीआई को उनके घर में सर्च करने के दौरान करने के दौरान केवल 259640 रुपए ही बरामद हुए हैं। जो अलग-अलग आयोजनों में मुझे प्राप्त हुए थे। सुनील सिंह का कहना था कि करीब 13 घंटे तक टीम मेरे साथ रही और इसका एक ही उद्देश्य है कि राज्य में महागठबंधन की सरकार जब से बनी है तो यह बीजेपी को रास नहीं आ रही है। सुनील सिंह का कहना था कि एमएलसी के रूप में मैंने अपनी जो भी प्रॉपर्टी शो की है उन सभी की फोटो कॉपी लेकर भी सीबीआई की टीम गई है। इनके पास कोई मामला नहीं है।

editor

editor

Leave a Reply

Your email address will not be published.