एटीएस ने जैश-ए-मोहम्मद के लिए काम करने वाले एक आतंकी को कानपुर से किया गिरफ्तार ~

एटीएस ने जैश-ए-मोहम्मद के लिए काम करने वाले एक आतंकी को कानपुर से किया गिरफ्तार

एटीएस ने जैश-ए-मोहम्मद के लिए काम करने वाले एक आतंकी को कानपुर से किया गिरफ्तार

लखनऊ, स्वतंत्रता दिवस पर किसी भी आतंकी हमले की आशंका को लेकर सतर्क उत्तर प्रदेश एटीएस को लगातार सफलता मिलती जा रही है। एटीएस ने जैश-ए-मोहम्मद के लिए काम करने वाले एक आतंकी को कानपुर से गिरफ्तार किया है।

उत्तर प्रदेश एटीएस ने 19 वर्ष के हबीबुल इस्लाम उर्फ सैफुल्ला को कानपुर से गिरफ्तार किया। उत्तर प्रदेश के गृह विभाग के स्वतंत्रता दिवस को लेकर सभी सुरक्षा एजेंसियों को हाई अलर्ट मोड पर रखने का बड़ा असर दिख रहा है। एटीएस ने बीती 12 अगस्त को जैश-ए-महुम्मदके साथ एवं अन्य आतंकवादी संगठनों से जुड़े महुम्मद नदीम को गिरफ्तार किया था।

नदीम से पूछताछ के दौरान मिली जानकारी के बाद आज हबीबुल इस्लाम उर्फ सैफुल्ला को कानपुर से पकड़ा है। नदीम को एटीएस की टीम कानपुर लेकर गई और कानपुर की फील्ड यूनिट ने शहर में कई जगह पर पड़ताल के बाद हबीबुल को फतेहपुर से धर दबोचा। इसके बाद टीम ने कानपुर में आकर इसकी गिरफ्तारी की। इन दोनों ही आतंकी के जैश ए-मुहम्मद से कनेक्शन सामने आए हैं।

वर्चुअल आइडी बनाने में महारत

हबीबलु इस्लाम उर्फ सैफुल्ला को वर्चुअल आइडी बनाने में महारत है। उसने नदीम के साथ कई पाकिस्तानी एवं अफगास्तिानी आतंकियों की वर्चुअल आइडी बनाई है। वह 50 से अधिक आतंकियों की वर्चुअल आइडी बना चुका है। वह इंटरनेट मीडिया के कई माध्यम जैसे फेसबुक मैसेंजर, टैलिग्राम और वहाट्स ऐप के माध्यम से पाकिस्तान तथा अफगानिस्तान के कई आतंकियों से जुड़ा है। वह विभिन्न ग्रप में मैसेज डालकर अपने काम कराता है। उत्तर प्रदेश एटीएस और अन्य खुफिया एजेंसियां भी अब गहन जांच में जुटी हैं। इनके कई और साथियों के नाम भी प्रकाश में आने की संभावना है। एटीएस ने आज कानपुर क्षेत्र में ताबड़तोड़ छापे मारे हैं।

सिर्फ 19 वर्ष है हबीबुल इस्लाम की उम्र

मूलरूप से बिहार के मोतिहारी जिले के कस्बा रामगढ़वा के गांव अधकपरिया निवासी 19 वर्षीय हबीबुल इस्लाम उर्फ सैफुल्ला ने जांच में बताया कि पिछले कुछ दिनों से उसने फतेहपुर के कोतवाली थानाक्षेत्र के मोहल्ला सैय्यदबाड़ा में डेरा जमाए था। उसे कानपुर की एटीएस यूनिट लाया गया। रात भर पूछताछ के बाद सुबह एटीएस ने आतंकी गतिविधियों में पुष्टि के बाद उसे गिरफ्तार कर लिया।

समूहों में जेहादी वीडियो

एटीएस के एडीजी नवीन आरोड़ा ने बताया कि वह समूहों में जेहादी वीडियो भेजकर जेहाद के लिए प्रेरित करता है। आतंकी सैफुल्ला को जैश-ए-मोहम्मद के पाकिस्तानी हैंडलर ने पाकिस्तान आकर जेहादी प्रशिक्षण लेने और फिर भारत में जेहाद करने के लिए कहा था। उसके पास से एटीएस ने एक मोबाइल फोन और एक चाकू भी बरामद किया है।

editor

editor

Leave a Reply

Your email address will not be published.