भारतीय जेल में चार साल से बंद महिला को पाक ने जारी किया नागरिकता सर्टीफिकेट

नई दिल्ली। भारतीय हिरासत केंद्र में कैद महिला सुमायरा को पाकिस्तान ने नागरिकता का सर्टीफिकेट जारी कर दिया है। इसके बाद ही वह अपनी बेटी के साथ जल्दी ही पाकिस्तान लौट सकेगी। डान की रिपोर्ट के अनुसार पाकिस्तान के गृह मंत्री शेख राहिद अहमद ने गुरुवार को घोषणा की है कि उनका मंत्रालय सुमायरा के लिए नागरिकता का सर्टीफिकेट भेजेगा।

वह दक्षिण भारतीय शहर बेंगलुरु के हिरासत केंद्र में पिछले चार सालों से कैद है। पाकिस्तान ने नादरा विभाग से सुमायरा के परिवार की वंशावली का पता लगाने के बाद यह कदम उठाया है। यह सर्टीफिकेट नई दिल्ली स्थित पाकिस्तान उच्चायोग को भेजा जा चुका है। इसके साथ ही उसे यात्रा दस्तावेज भी सौंपा जाएगा।

पाकिस्तान मूल की इस महिला के अपनी बेटी के साथ भारत में कैद होने का मुद्दा पाकिस्तानी सीनेट में उठा था। इसे पीएमएल-एन के सीनेटर इरफान सिद्दीकी ने उठाया था।

बीबीसी की रिपोर्ट के अनुसार पाकिस्तानी नागरिकता वाला एक परिवार कतर में रहता था। वहां पाकिस्तानी युवती सुमायरा ने एक हिंदुस्तानी युवक से शादी कर ली और वह उसे बाद में बिना वीजा के भारत ले आया। जहां सुमायरा को हिरासत में लेकर तीन साल की कैद में बंदीगृह भेज दिया गया। वहां उसने एक बच्ची को जन्म दिया।

editor

editor

Leave a Reply

Your email address will not be published.