Thursday , March 21 2019
Home / टेक वर्ल्ड / ये एप्प करते थे फेसबुक और व्हाट्सएप का डाटा हैक
WhatsApp-Share-Data-Facebook-UK-932113

ये एप्प करते थे फेसबुक और व्हाट्सएप का डाटा हैक

जापानी साइबर सिक्योरिटी कंपनी ट्रेंड माइक्रो ने एक ऐसे स्पायवैयर का पता लगाया है, जिसकी मदद से 6 एंड्रॉयड ऐप्स यूजर्स के फेसबुक, वॉट्सऐप और स्नैपचैट का डेटा को एक्सेस कर रहे थे। ट्रेंड माइक्रो के मुताबिक, इस स्पाइवैयर का नाम ‘ANDROIDS_MOBSTSPY’ है और ये स्पाइवैयर गूगल प्ले स्टोर पर मौजूद फ्लैपी बीर, फ्लैपी बीर डॉग, फ्लैशलाइट, एचजेडपरमिस प्रो अरेब, विन7सिमुलेटर और विनलॉन्चर ऐप्स के जरिए यूजर्स का डेटा हैक कर रहा था। हालांकि, ये रिपोर्ट आने के बाद गूगल प्ले स्टोर से इन ऐप्स को हटा दिया गया है।

इस तरह हैक किया जाता था यूजर्स का डेटा

  • ट्रेंड माइक्रो ने बताया कि, जैसे ही कोई यूजर इन स्पाइवैयर वाले ऐप्स को अपने डिवाइस पर डाउनलोड करता था, तो ये स्पाइवैयर उस डिवाइस के इंटरनेट कनेक्शन को हैक कर अपने कमांड और कंट्रोल सर्वर से जोड़ देता था।
  • इस कनेक्शन के होते ही डिवाइस की लैंग्वेज, रजिस्टर्ड कंट्री और मैनुफैक्चरर जैसी बेसिक जानकारी को हैक कर लिया जाता था। इसके बाद हैकर्स उस डिवाइस के और डेटा को हासिल करने के लिए यूजर्स के डिवाइस पर फेक नोटिफिकेशन और कमांड भेजना शुरू कर देते थे।
  • ट्रेंड माइक्रो के रिसर्चर के मुताबिक, ये स्पाइवैयर डिवाइस की सभी जानकारियों को हैक करने में सक्षम था। इस स्पाइवैयर के जरिए यूजर्स के कॉल लॉग, कॉन्टैक्ट, पर्सनल मैसेज, ऑडियो-वीडियो फाइल और फोटोज के अलावा वॉट्सऐप, फेसबुक और स्नैपचैट के डेटा को भी एक्सेस किया जा सकता था।

इस स्पाइवैयर से सबसे ज्यादा भारतीय प्रभावित
साइबर सिक्योरिटी कंपनी ने अपनी रिसर्च में पाया कि इस स्पाइवैयर के जरिए दुनियाभर के 196 देशों के यूजर्स का डेटा हैक किया गया, जिसमें सबसे ज्यादा प्रभावित भारतीय यूजर्स हुए। इस स्पाइवैयर की मदद से भारतीयों के बाद सबसे ज्यादा रूस, पाकिस्तान, बांग्लादेश और फिर इंडोनेशिया के यूजर्स का डेटा एक्सेस किया गया।

स्पाइवैयर से प्रभावित होने वाले टॉप-10 देश

भारत 31.77%
रूस 7.54%
पाकिस्तान 4.81%
बांग्लादेश 4.71%
इंडोनेशिया 3.42%
ब्राजील 3.26%
इजिप्ट 3.04%
यूक्रेन 2.62%
तुर्की 1.67%
अमेरिका 1.53%

About एच बी संवाददाता

Check Also

WhatsApp Image 2019-03-21 at 01.25.05

फाग

आम की बौर,कोयल की कूक, जगह-जगह फूल, भँवरे की गुँजन और बसंती बयार । इन …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *