Monday , December 10 2018
Home / देश / राज्यपाल गर्भवती महिला को अपने हेलीकॉप्टर में लेकर गए अस्पताल
bd-mishra-759-e1506792733293

राज्यपाल गर्भवती महिला को अपने हेलीकॉप्टर में लेकर गए अस्पताल

ईटानगर। अरुणाचल प्रदेश के राज्यपाल ब्रिगेडियर (सेवानिवृत्त) बीडी मिश्रा ने सभी के लिए इंसानियत की मिसाल पेश की है। वह एक ‘लेबर पेन’ से तड़पती गर्भवती महिला को अपने हेलीकॉप्टर से तवांग से ईटानगर लेकर आए, ताकि उसे समय पर डॉक्टरी सहायता उपलब्ध हो सके। इतना ही नहीं उन्होंने इस बात का भी पूरा ध्यान रखा कि महिला को सभी मेडिकल सुविधाएं प्राप्त हो। बताया जा रहा है कि उस समय महिला की हालत बहुत नाजुक थी। राजभवन के सूत्रों ने बताया कि तवांग में आधिकारिक कार्यक्रम के दौरान राज्यपाल ने मुख्यमंत्री पेमा खांडू और स्थानीय विधायक के बीच बातचीत सुनी, जिसके बाद वह मदद के लिए आगे आए।

दरअसल राज्यपाल बीडी मिश्रा एक आधिकारिक कार्यक्रम में शिरकत करने तवांग पहुंचे थे। इसी दौरान उन्होंने स्थानीय विधायक और मुख्यमंत्री पेमा खांडू की बातचीत सुनी। विधायक सीएम को बता रहे थे कि एक गर्भवती महिला की हालत नाजुक है, लेकिन तवांग और गुवाहाटी के बीच अगले 3 दिनों तक कोई हेलिकॉप्टर सेवा नहीं है। ये सुन कर राज्यपाल ने खुद आगे आकर महिला की मदद का प्रस्ताव दिया।

उन्होंने कहा कि वह खुद अपने हेलिकॉप्टर से महिला और उसके पति को साथ ले जाएंगे। इतना ही नहीं दंपती के लिए हेलिकॉप्टर में जगह बनाने के लिए राज्यपाल ने अपने दो अधिकारियों को तवांग में ही छोड़ने का फैसला लिया।

खुद इंतजार कर महिला को दूसरे हेलिकॉप्टर से रवाना किया

इस नेक काम में बीडी मिश्रा के सामने कई मुश्किलें सामने आईं, लेकिन वह गर्भवती महिला को अस्पताल पहुंचा कर ही माने। राज्यपाल का हेलिकॉप्टर असम के तेजपुर में ईंधन भरने के लिए उतरा था। वहां पायलट ने देखा कि हेलिकॉप्टर में कुछ खराबी आ गई है और अब वह उड़ान नहीं भर सकता। महिला की हालत से परेशान राज्यपाल ने तेजपुर स्थित वायुसेना बेस के कमांडिंग अफसर से दूसरा हेलिकॉप्टर मांगा और महिला व उसके पति को अस्पताल के लिए रवाना किया। वह खुद बाद में दूसरे हेलिकॉप्टर से गए।

राज्यपाल ने बच्चे को दीं शुभकामनाएं 

इतना ही नहीं, राज्यपाल ने इसके बाद यह भी सुनिश्चित किया कि ईटानगर में राजभवन के हेलिपैड पर एक स्त्री रोग विशेषज्ञ के साथ ऐम्बुलेंस मौजूद रहे, ताकि महिला को कोई कष्ट ना हो। बीडी मिश्रा ने बाद में महिला और बिल्कुल स्वस्थ पैदा हुए बच्चे को शुभकामनाएं दीं। अरुणाचल के राज्यपाल के इस नेक काम की हर तरफ चर्चा हो रही है।

About एच बी संवाददाता

Check Also

Homework_-_vector_maths

पांचवीं-आठवीं की परीक्षा अब किसी भी उम्र में दी जा सकती है

भोपाल । मध्य प्रदेश में ओपन स्कूल से अब किसी भी उम्र में पांचवीं-आठवीं की बोर्ड …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *