बिहार में ‘अग्निपथ’ पर बवाल: सड़कों पर उतरे युवा

बिहार में ‘अग्निपथ’ पर बवाल: सड़कों पर उतरे युवा

पटना, सेना में भर्ती के‍ लिए सरकार की नई योजना ‘अग्निपथ’ का विरोध बिहार में लगातार दूसरे दिन जोर पकड़ चुका है। गुरुवार को पटना – गया रेलखंड, पटना-पीडीडीयू रेलखंड, गया- किउल रेलखंड, छपरा- सिवान रेलखंड पर युवाओं ने ट्रेन परिचालन बाधित किया है। छपरा, सिवान, बक्‍सर, जहानाबाद, नवादा, आरा में रेलवे स्‍टेशन पर रेल ट्रैक पर युवाओं ने प्रदर्शन किया है। इसके अलावा सिवान, अरवल सहित कई शहरों में हंगामा हुआ है। बुधवार की शाम गया में पूर्व मुख्‍यमंत्री जीतन राम मांझी के काफिले पर इसी विषय पर हंगामे के दौरान पथराव किया गया था। बुधवार को पटना, भागलपुर, बक्‍सर, मुजफ्फरपुर, बेगूसराय सहित और भी कई शहरों में हंगामा हुआ था। इसके चलते पटना-रांची जनशताब्‍दी एक्‍सप्रेस, काशी-पटना जनशताब्‍दी एक्‍सप्रेस, लोकमान्‍य तिलक-कामख्‍या एक्‍सप्रेस सहित कई ट्रेनों को अलग -अलग स्‍टेशनों पर घंटों रोकना पड़ा है।

जहानाबाद स्‍टेशन पर नई योजना के विरोध में सेना बहाली की तैयारी करने वाले युवाओं ने प्रदर्शन किया। यहां युवाओं ने ट्रेनों के साथ स्‍टेशन के ठीक बगल से गुजरने वाले एनएच पर वाहनों का आवागमन भी बाधित किया। करीब ढाई घंटे के बाद पुल‍िस ने लाठीचार्ज कर युवाओं को खदेड़ा। अरवल में भी आर्मी बहाली को लेकर हंगामा हुआ, जिसे प्रशासन ने दो घंटे की मशक्‍कत के बाद शांत करा लिया। इधर, बक्‍सर और नवादा में भी हंगामा शुरू हुुुआ है। नवादा जिले में वारसलीगंज विधानसभा क्षेत्र की विधायक अरुणा देवी की गाड़ी पर हमले की सूचना मिल रही है।

पथराव के बाद पुलिस ने रेलवे ट्रैक से छात्रों को खदेड़ा, एक जवान जख्मी

जहानाबाद में सुबह छह बजे ही छात्रों ने आकर रेलवे ट्रैक पर कब्जा जमा लिया था। छात्रों के शांतिपूर्ण प्रदर्शन पर पुलिस भी चुप थी। तीन घंटे बाद छात्रों की भीड़ से अचानक किसी ने पथराव शुरू कर दिया, जिसके बाद पुलिस ने भो मोर्चा संभाल लिया। हल्का बल प्रयोग कर छात्रों को खदेड़ भगाया। इस बीच पथराव में रेल पुलिस के जवान निरंजन कुमार जख्मी हो गए, जिनका इलाज रेल अस्पताल में कराया गया।

एनएच 83 से भी हटा जाम

पटना-गया एनएच 83 से भी सुबह 10 बजे के आसपास पुलिस ने जाम हटाया। पुलिस अधिकारियों ने छात्रों को समझाकर काको मोड़ को खाली कराया। यहां छात्रों ने आगजनी भी की थी। पटना-गया और जहानाबाद-बिहारशरीफ मार्ग पर यातायात सामान्य हुआ। दोनों मार्ग सुबह छह बजे से ही बंद होने के कारण वाहनों की लंबी कतार लग गई थी। जाम में फंसे लोगों ने राहत की सांस ली।

बक्सर में गुरुवार की सुबह से ही सैकड़ों की संख्या में युवक किला मैदान में एकत्र हुए और यहां से जुलूस के रूप में नारे लगाते हुए स्टेशन की ओर रवाना हो गए। युवकों ने लगातार दूसरे दिन बक्‍सर में रेल ट्रैक जाम कर हंगामा शुरू कर दिया। बक्‍सर जिले में पड़ने वाले तमाम छोटे-बड़े रेलवे स्‍टेशनों पर हंगामा किया गया। डुमरांव स्‍टेशन पर खड़ी एक एसी स्‍पेशल ट्रेन को नुकसान पहुंचाया गया। आरा शहर में भी युवा इकट्ठा होकर रेलवे स्‍टेशन पहुंचे और वहां जमकर तोड़फोड़ की।

आपको बता दें कि बुधवार को सेना बहाली के नियमों में बदलाव के विरोध में बक्‍सर रेलवे स्‍टेशन पर करीब 45 मिनट तक रेल परिचालन बाधित किया था। गया में पूर्व मुख्‍यमंत्री जीतन राम मांझी के काफिले पर पथराव किया गया था और मुजफ्फरपुर में भी काफी हंगामा हुआ था। इधर, बक्‍सर में लगातार दूसरे दिन युवा इकट्ठा होकर विरोध कर रहे हैं।

जहानाबाद में सेना बहाली को लेकर युवकों ने किंजर-कुर्था मोड़ एवं पालीगंज पथ को पूरी तरह जाम कर दिया है। इन युवाओं का कहना है कि सेना भर्ती प्रक्रिया को दो साल से रोक रखा गया है। इस बीच सेना बहाली की तैयारी करने वाले युवाओं की उम्र खत्‍म हो रही है। युवाओं का कहना है कि सेना भर्ती की प्रक्रिया पुराने नियमों के अनुसार तुरंत शुरू करनी चाहिए।

बुधवार को दिल्‍ली-हावड़ा रेल मार्ग पर किया था प्रदर्शन 

आर्मी बहाली की मांग कर रहे युवाओं ने दिल्‍ली – हावड़ा मुख्‍य रेल मार्ग के पटना – पीडीडीयू रेलखंड के बक्‍सर स्‍टेशन पर यातायात बाधित किया था। बुधवार की सुबह बक्‍सर में युवाओं ने काशी – पटना जनशताब्‍दी को काफी देर तक स्‍टेशन पर रोक कर रखा था। आरपीएफ और जीआरपी के प्रयासों के बाद ट्रेन परिचालन शुरू कराया गया था। 

गया में मांझी पर हमला, मुजफ्फरपुर में भी हुआ था बवाल

मुजफ्फरपुर में युवाओं ने दो साल से लंबित सेना बहाली प्रक्रिया पूरी करने की मांग को लेकर सड़कों पर टायर जलाकर यातायात बाधित किया था और नारेबाजी की थी। इस दौरान पुलिस को लाठी चार्ज करते हुए भीड़ को कंट्रोल करना पड़ा था। गया के भुसुंडा मोड़ पर बुधवार की शाम सड़क जाम कर युवाओं ने विरोध प्रदर्शन किया। इसी बीच रास्‍ते से गुजरते पूर्व सीएम जीतन राम मांझी के काफिले पर पथराव कर दिया गया। हालांकि, इसमें किसी को कोई नुकसान नहीं पहुंचा था। इसके बाद पुलिस ने अत‍िरिक्‍त पुलिस मंगाकर स्‍थ‍िति को नियंत्रित किया।

अरवल और जहानाबाद में छात्रों का बवाल, ट्रेन रोकी, सड़क जाम

केंद्र सरकार द्वारा युवाओं को महज चार साल के लिए सैन्य बलों में भर्ती की योजना के विरोध में छात्रों ने गुरुवार को अरवल और जहानाबाद में जमकर बवाल काटा। सुबह छह बजे ही अचानक एकजुट हुए युवकों ने अरवल के किंजर-कुर्था मोड़ एवं पालीगंज पथ को जाम कर दिया। छात्रों की संख्या 200 से ज्‍यादा थी। इस सूचना पर भारी संख्या में पुलिस बल पहुंचा। युवकों ने वरीय अधिकारियों के समक्ष अपनी मांग को रखा। करीब दो घंटे की मशक्कत बाद छात्र माने, जिसके बाद किंजर-कुर्था एवं पालीगंज पथ पर यातायात सेवा बहाल हुई।

जहानाबाद में बवाल शांत कराने में जुटा प्रशासन 

जहानाबाद में भी सुबह ही छात्रों का हुजूम पटना-गया रेलखंड पर जहानाबाद स्टेशन और पटना-गया एनएच 83 पर उतर आया। यहां भी जुटे 100 से ज्‍यादा युवकों ने खूब बवाल काटा है। छात्रों ने रेल पटरी पर बैठ कर ट्रैक को जाम कर दिया। इस कारण सुबह की ट्रेनों का परिचालन बाधित हो गया। सूचना पर  आरपीएफ और जीआरपी पहुंची, लेकिन छात्र मानने को तैयार नहीं। यात्री परेशान हैं। वही स्टेशन के समीप ही छात्रों ने एनएच 83 को काको मोड़ के पास जाम कर दिया। इससे पटना-गया और जहानाबाद-बिहारशरीफ मार्ग में भी आवागमन बाधित हो गया है। दोनों सड़क मार्ग पर जाम लगा हुआ है। पुलिस और प्रशासन के अधिकारी पहुंच गए हैं। छात्रों को मानने का प्रयास जारी है। स्टेशन और सड़क पर भारी संख्या में पुलिस जवान मौजूद हैं।

बेगूसराय में आक्रोशित छात्रों ने बछवाड़ा के झमटिया ढ़ाला पर एनएच 28 जाम कर अपनी मांग के समर्थन में कर रहे सरकार विरोधी नारेबाजी। छपरा में उपद्रवी छात्रों ने फुलवरिया ट्रेन की एक बोगी में आग लगा दी है और तोड़फोड़ शुरू की है। छपरा जंक्शन से लेकर पूरे शहर में जमकर छात्रों द्वारा बवाल किया जा रहा है। सभी चौक चौराहों पर आगजनी व सड़क जाम किया गया है। उपद्रव के डर से जो जहां है, वहीं पर सहमा हुआ है। स्कूल पहुंचे छात्र भी अपने स्कूल में दुबके हुए हैं। छपरा विधायक डॉ सीएन गुप्ता के आवास पर भी उपद्रवियों ने तोड़फोड़ किया है। विधायक का कहना है कि उपद्रवियों द्वारा उनके आवास के सभी शीशे तोड़ दिए गए हैं। आरा स्टेशन पर खूब हंगामा और आगजनी हुई है। साढ़े तीन घंटे से दिल्ली- हावड़ा मेन लाइन पर ट्रेनों की आवाजाही बंद है।

सेना में भर्ती लिए केंद्र सरकार की अग्निपथ योजना के विरोध में बिहार में पटना जिले के मनेर सहित आरा, बेगूसराय, गया, बक्सर व भागलपुर के नवगछिया में जगह-जगह पर छात्रों ने बुधवार को भी प्रदर्शन किया था। पटना के मनेर में सेना में भर्ती की इस नई योजना के विरोध में छात्रों ने प्रदर्शन किया और जगह-जगह आवागमन अवरुद्ध कर दिया। आरा में इंकलाबी नौजवान सभा के कार्यकर्ताओं ने अग्निपथ भर्ती योजना को लेकर आरा रेलवे स्टेशन परिसर से प्रतिरोध मार्च निकाला। यह प्रतिरोध मार्च त्रिभुआनी कोठी मोड़ होते हुए पोस्ट आफिस मोड़ तक गया। भागलपुर के नवगछिया में भी युवाओं ने जमकर बवाल काटा। इस दौरान युवाओं ने पुलिस पर पथराव भी किया जिसके बाद पुलिस को उन्हें खदेडऩा पड़ा। इस क्रम में तीन घंटे तक सड़क जाम रहा।

editor

editor

Leave a Reply

Your email address will not be published.