Thursday , March 21 2019
Home / देश / राज्यसभा में भी सवर्ण आरक्षण बिल पास
aarakshan

राज्यसभा में भी सवर्ण आरक्षण बिल पास

लोकसभा में Upper Caste Reservation Bill पास हो चुका है और अब संविधान संशोधन विधेयक सरकार ने राज्यसभा में पेश कर दिया। केंद्रीय मंत्री थावरचंद गहलोत ने इसे पेश किया। बिल के पेश होते ही राज्यसभा में हंगामा शुरू हो गया। विपक्षी सांसद अपनी सीट से उठकर उपसभापति के सामने आकर नारेबाजी करने लगे। जिस तेजी के साथ इस बिल को कैबिनेट की मंजूरी मिली और लोकसभा में पास भी हो गया, उसे देखते हुए लगता है कि राज्यसभा में भी यह बिल पास हो जाएगा। हालांकि, इस पर वोटिंग से पहले चर्चा हो रही है। संसदीय कार्य राज्य मंत्री विजय गोयल ने राज्यसभा में बुधवार को कहा कि अभी कई विधेयक बचे हुए हैं, इसलिए सरकार सदन की कार्यवाही को एक दिन के लिए बढ़ाना चाहती है।

लोक सभा के बाद राज्य सभा में भी 10 घंटे की चर्चा के बाद 10 प्रतिशत सवर्ण आरक्षण बिल पास। बिल के पक्ष में 165 मत और विरोध में 7 मत पड़े इस प्रकार यह बिल पास हुआ। अब ये बिल मंजूरी के लिए राष्ट्रपति के पास भेजा जाएगा।

 

सवर्ण आरक्षण बिल को कई सांसदों ने सेलेक्ट कमेटी के पास भेजने की मांग खारिज कर दी गई।

 

सवर्ण आरक्षण बिल को कई सांसदों ने सेलेक्ट कमेटी के पास भेजने की मांग की है। इनमें से कनिमोझी, टी रंगराजन भी शामिल हैं इन सांसदों के इस प्रस्ताव को ध्वनिमत से खारिज कर दिया गया है। अब राज्य सभा के भीतर बिल को सेलेक्ट कमेटी के पास भेजने के प्रस्ताव पर वोटिंग हो रही है।

राज्यसभा में निर्दलीय सांसद अमर सिंह ने सवर्ण आरक्षण बिल का समर्थन करते हुए कहा कि जो लोग इस बिल का विरोध कर रहे हैं। वो वोट क्यों दे रहे हैं। अगर ये बिल इतना ही खराब है तो वोटिंग न करें साथ ही उन्होंने कहा कि सवर्णों ने बहुत पहले से ही अपना मन बदल लिया है, दलित से रिश्ते कायम किए, रोटी-बेटी के संबंध बनाए।

सवर्णों के आरक्षण बिल पर कांग्रेस सांसद कुमारी शैलजा ने सरकार पर निशाना साधते हुए कहा कि जब कहा कि जब देश की जनता आपका साथ छोड़ने वाली है तब आप संसद के आखिरी सत्र में ये बिल ला रहे हैं। कुमारी सैलजा ने कहा कि यह बिल सुप्रीम कोर्ट में नहीं टिक पाएगा क्योंकि आपके पास अभी बहुत से सवालों का जवाब नहीं है, आप जनता को गुमराह कर रहे हैं। उन्होंने आगे कहा कि महिला आरक्षण बिल पर आपकी सरकार क्या कर रही है।

About एच बी संवाददाता

Check Also

WhatsApp Image 2019-03-21 at 01.25.05

फाग

आम की बौर,कोयल की कूक, जगह-जगह फूल, भँवरे की गुँजन और बसंती बयार । इन …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *