पूर्व मुख्‍यमंत्री हरीश रावत ने दिल्ली में डाला डेरा, मतगणना के बाद संभावित स्थिति को लेकर केंद्रीय नेताओं से कर रहे मंथन

पूर्व मुख्‍यमंत्री हरीश रावत ने दिल्ली में डाला डेरा, मतगणना के बाद संभावित स्थिति को लेकर केंद्रीय नेताओं से कर रहे मंथन

पूर्व मुख्यमंत्री एवं कांग्रेस की प्रदेश चुनाव अभियान समिति के अध्यक्ष हरीश रावत इन दिनों दिल्ली में डेरा डाले हैं। मतगणना के बाद संभावित स्थिति को लेकर केंद्रीय नेताओं के साथ चर्चा के बाद वह आठ मार्च को देहरादून लौटेंगे। इसी दिन देर सायं प्रदेश प्रभारी देवेंद्र यादव एवं तीनों सह प्रभारी भी दून पहुंचकर मतगणना के दिन की रणनीति तैयार करेंगे।

प्रदेश के दिग्गज कांग्रेस नेताओं की नजरें 10 मार्च को होने वाली मतगणना पर टिकी हैं। पार्टी उम्मीद कर रही है कि प्रदेश की सत्ता पर इस बार वह काबिज होगी। ईवीएम खुलने के साथ ही यह भी तय हो जाएगा कि पार्टी की उम्मीद पूरी होंगी या नहीं। अलबत्ता, पार्टी नेताओं ने बहुमत के आंकड़े को लेकर आकलन शुरू कर दिया है। स्पष्ट बहुमत नहीं मिलने की स्थिति में निर्दलीयों या अन्य दलों के जीतने वाले प्रत्याशियों से भी अंदरखाने संपर्क साधकर उनके मन की थाह ली जा रही है। हालांकि, यह सबकुछ अनौपचारिक तरीके से ही किया जा रहा है।

प्रदेश के दिग्गज कांग्रेस नेताओं की नजरें 10 मार्च को होने वाली मतगणना पर टिकी हैं। पार्टी उम्मीद कर रही है कि प्रदेश की सत्ता पर इस बार वह काबिज होगी। ईवीएम खुलने के साथ ही यह भी तय हो जाएगा कि पार्टी की उम्मीद पूरी होंगी या नहीं। अलबत्ता, पार्टी नेताओं ने बहुमत के आंकड़े को लेकर आकलन शुरू कर दिया है। स्पष्ट बहुमत नहीं मिलने की स्थिति में निर्दलीयों या अन्य दलों के जीतने वाले प्रत्याशियों से भी अंदरखाने संपर्क साधकर उनके मन की थाह ली जा रही है। हालांकि, यह सबकुछ अनौपचारिक तरीके से ही किया जा रहा है।

editor

editor

Leave a Reply

Your email address will not be published.