श्री काशी विश्वनाथ मंदिर में विधि-विधान के साथ फूल देई कार्यक्रम को समापन किया गया ~

श्री काशी विश्वनाथ मंदिर में विधि-विधान के साथ फूल देई कार्यक्रम को समापन किया गया

श्री काशी विश्वनाथ मंदिर में विधि-विधान के साथ फूल देई कार्यक्रम को समापन किया गया

आज दिनांक 21 मार्च 2022 को श्री काशी विश्वनाथ मंदिर में विधि-विधान और स्वस्तिवाचन के साथ फूल देई कार्यक्रम का समापन किया गया। इस अवसर पर श्री काशी विश्वनाथ मंदिर के महंत श्री अजय पुरी जी के द्वारा सभी बच्चों को मंगल पिठाई और पठन सामग्री, उपहार आदि देकर इस पावन पर्व फूलदेई के समापन की घोषणा की गई। बता दे यह फूलदेई कार्यक्रम 14 मार्च 2022 से प्रारंभ किया गया था इस दौरान प्रतिदिन छोटे-छोटे बच्चे मां गोगा माता की प्रतीक डोली के साथ नित्य सभी मंदिरों और घरों की देहरी पर फूल डालते थे, इसके साथ साथ शिव गण रूपी सभी छोटे छोटे बच्चे पुष्प से भरी टोकरी के साथ जिलाधिकारी उत्तरकाशी एवं पुलिस अधीक्षक उत्तरकाशी के घर पर भी पुष्प डालने गए, अपनी लोक परंपरा और लोक संस्कृति के संरक्षण हेतु श्री काशी विश्वनाथ मंदिर सेवा दल की सपत्नीक जिलाधिकारी उत्तरकाशी एवं पुलिस अधीक्षक उत्तरकाशी के द्वारा बहुत सराहना की गई और भविष्य में इस प्रकार के कार्यक्रम को और भव्य रूप से मनाने के लिए कहा गया और सहयोग प्रदान करने का अस्वासन दिया।

निरंतर आठ दिवस तक फूल देई कार्यक्रम के दौरान देश विदेश के बहुत से पर्यटक उपस्थित रहे तथा भगवान भोलेनाथ से जुड़े इस फूल देई कार्यक्रम से रूबरू हुए,

आठ दिवस तक इस कार्यक्रम में उपस्थित रहने वाले बाल शिव गण आयुष, रूही, प्रिया ,सार्थक, वैष्णवी, लक्ष्मी, प्रियांश, सागर ,शिवम ,आराध्य ,शिवांगी, रोहित, तथा शशि उनियाल, उषा थपलियाल, मंजू मिश्रा, मोहन डबराल, कन्हैया सेमवाल, गोपाल रावत, विनोद, अंकित मंमगाई,पारस कोटनाला,राहुल पंवार , पृथ्वी एवं जमुना उनियाल,गणेश सेमवाल, संजीव अरोड़ा आदि उपस्थित रहे।

editor

editor

Leave a Reply

Your email address will not be published.