Monday , December 10 2018
Home / उत्तराखण्ड / पांडव नृत्य का मंचन : द्रोपदी और दुर्योधन संवाद से भाव विभोर हो उठे दर्शक
06nth01

पांडव नृत्य का मंचन : द्रोपदी और दुर्योधन संवाद से भाव विभोर हो उठे दर्शक

घनसाली (टिहरी)। विकासखंड भिलंगना के ग्राम पंचायत पौनाड़ा में पांडव नृत्य का मंचन किया गया। ग्रामीणों ने कुंती पुत्र पांडवों के युद्ध कौशल और पराक्रम का अदभुत मंचन देखा। इस दौरान द्रोपदी स्वयंवर, चीर हरण और महाभारत युद्ध के मार्मिक दृश्यों को देखकर दर्शक भाव विभोर हो उठे।
भिलंगना ब्लॉक के दूरस्थ गांव पौनाडा में पिछले एक सप्ताह से पांडव लीला कार्यक्रम का आयोजन किया जा रहा है। राजकीय प्राथमिक विद्यालय लंवाडा के छोटे-छोटे छात्रों की ओर से पांडव नृत्य के तहत द्रोपदी स्वयंवर, चीर हरण, दुर्योधन और द्रोपदी के बीच वार्तालाप सहित कई प्रसंगों का नाटकीय मंचन किया गया। दुर्योधन जब इंद्रप्रस्थ महल में आते हैं तो यह समझ नहीं पाते हैं कि कहां जल और कहां थल। इस दृश्य पर जब द्रोपदी द्वारा दुर्योधन का मजाक उड़ाया जाता है दर्शक तालियां बजाने को मजबूर होते हैं। नन्हें-नन्हें छात्र-छात्राओं का अभिनय देखकर ग्रामीण अभीभूत हो उठे। इससे पूर्व मुख्य अतिथि ज्येष्ठ प्रमुख पूरब सिंह पंवार और धनपाल राणा ने दीप प्रज्जवलित कर कार्यक्रम का शुभारंभ किया। उन्होंने कहा कि पांडव देवता केदारखंड से हमारी पौराणिक धरोहर रहे हैं। अपनी संस्कृति को संयोए रखने के उद्देश्य से पांडव नृत्य और महाभारत कला मंचन जैसे कार्यक्रम आयोजित किए जा रहे हैं। उन्होंने सरकार से भी अनुरोध किया कि ऐसे पौराणित कार्यक्रमों का प्रोत्साहन किया जाए। पांडव मंचन समिति के अध्यक्ष और स्कूल के प्रधानाध्यापक कमल सिंह पंवार ने कहा कि पांडवों को अन्नपूर्णा देवता भी माना गया है। क्षेत्र में अन्न-धन की वृद्धि के लिए लगातार तीसरे साल पांडव लीला का आयोजन किया जा रहा है। इस मौके पर कुंवर सिंह बिष्ट, मन मोहन राणा, कुंवर सिंह रावत, भजन सिंह राणा, शीशपाल राणा, उत्तम राणा, गब्बर सिंह, विजय राणा, प्रमोद नेगी, भीम सिंह राणा, रायचंद नेगी, धनपता देवी, दर्बा राण, उदीना राणा, बचनी रावत, पार्वती राणा, जमुना राणा, सुलोचना राणा आदि मौजूद रहे।

About एच बी संवाददाता

Check Also

Homework_-_vector_maths

पांचवीं-आठवीं की परीक्षा अब किसी भी उम्र में दी जा सकती है

भोपाल । मध्य प्रदेश में ओपन स्कूल से अब किसी भी उम्र में पांचवीं-आठवीं की बोर्ड …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *