बृहस्‍पिवार को करें बाबा की पूजा

गुरूवार के नाम से ही स्‍पष्‍ट है कि इसे गुरू का दिन माना जाता है। इसलिए इस दिन विष्‍णु भगवान की पूजा के साथ साथ शिरडी साईं की पूजा की जाती है। शिरडी के साईं बाबा की उनके भक्‍तों के बीच काफी मान्‍यता है। ऐसी मान्‍यता है कि बृहस्पतिवार को बाबा के व्रत करने से सभी इच्छाएं पूरी होती हैं। व्रत का आरंभ किसी भी माह के शुक्ल और कृष्ण पक्ष की तिथि से कर सकते हैं। ये भी कहा जाता है कि 9 बृहस्‍पतिवार तक साईं का व्रत करने से हर मनोकामना पूर्ण होने का आर्शिवाद मिलता है।

बाबा के 12 मंत्र

यदि आप व्रत नहीं कर पा रहे हैं तो प्रत्‍येक गुरूवार को उनके 12 मंत्रों का जाप करें तो भी सारे कष्‍टों से मुक्‍ति मिल सकती है। साईं के मंत्र इस प्रकार हैं।

1- ॐ साईं राम, 2- ॐ साईं गुरुवाय नम:, 3- सबका मालिक एक है, 4- ॐ साईं देवाय नम:, 5- ॐ शिर्डी देवाय नम:, 6- ॐ समाधिदेवाय नम:, 7- ॐ सर्वदेवाय रूपाय नम:, 8- ॐ शिर्डी वासाय विद्महे सच्चिदानंदाय धीमहि तन्नो साईं प्रचोदयात, 9- ॐ अजर अमराय नम:, 10- ॐ मालिकाय नम:, 11- जय-जय साईं राम, 12- ॐ सर्वज्ञा सर्व देवता स्वरूप अवतारा