Thursday , March 21 2019
Home / देश / मैरी क्रिसमस: जन्में प्रभु यीशु, आधी रात 12 बजे से ही शुरू हुआ उत्सव
mpcg-n1360269-large

मैरी क्रिसमस: जन्में प्रभु यीशु, आधी रात 12 बजे से ही शुरू हुआ उत्सव

सोमवार को यीशु के जन्म की खुशी में देश के  सभी चर्च रंग-बिरंगी रोशनी से सजाए गए। ईसाई समुदाय के साथ ही अन्य धर्मों के लोग भी चर्च में हो रही प्रभु यीशु मसीह के जन्म की तैयारियों में शामिल रहे। रात के साढ़े ग्यारह बजे सभी लोग पवित्र प्रार्थना के लिए एकत्रित। जिंगल बैल जिंगल बैल की धुनों पर उल्लास और उमंग की गर्माहट से किसी को सर्दी का एहसास नहीं हो रहा था। कैरल्स की गूंज के बीच हर किसी को प्रभु यीशु के जन्म का इंतजार रहा। रात के ठीक 12 बजते ही चर्च में घंटे बज उठे और लोगों ने एक-दूसरे को मैरी क्रिसमस की बधाई दी। इसके बाद प्रभु यीशु के जन्म की खुशी में केक सेरेमनी कर जश्न मनाया गया। इस बीच आसमान में रंग-बिरंगी आतिशबाजी भी हुई।

Dooncharchsaintd marry

इसके बाद पवित्र मिस्सा बलिदान चढ़ाने की प्रक्रिया हुई और फिर करीब एक घंटे की विशेष प्रार्थना हुई। चर्च के पास्टर ने प्रभु यीशु के संदेश सुनाते हुए कहा कि हमें प्रभु यीशु के जीवन से प्रेरणा लेकर उनके संदेशों को आत्मसात करना चाहिए। इसके अलावा लोगों ने गुनाहगारों को देने सहारा आया, चरणी में तारणहार, शोर दुनिया में ये हो गया आज पैदा मसीह हो गया, खुश हो खुदाबंद आया है उसको कुबूल कर ले, बधाई गीत आया प्रभु आया, प्यारा प्रभु आया, प्रभु आया प्रेम का संदेश लाया आदि गीत गाकर खुशी मनाई। सुबह से चर्च में कन्फेशन का दौर शुरू हो गया था। लोगों ने कैंडिल जलाकर अपने पापों की क्षमा मांगी। शाम को घरों और चर्चों में कैरल्स गाकर खुशियां मनाई गईं। सेंट जॉन्स चर्च में पास्टर रेवरेन नितिन रॉबिन सिंह, सेंट फ्रांसिस चर्च में रेवेरन फादर फॉस्टिन जॉन पिंटो, मॉरीसन मेमोरियल चर्च में रेवरेन पीजे सिंह, सेंट्रल मैथोडिस्ट चर्च में रेवरेन दिनेश प्रसाद, सेंट थॉमस चर्च में रेवरेन बूमर ने प्रार्थना कराई। बाजारों में भी क्रिसमस को लेकर रौनक दिखाई गई। घरों को सितारों, बैल्स और क्रिसमस ट्री से सजाया गया। वहीं प्लम केक का भी जमकर स्वाद लिया गया।  घरों और बाजारों में सभी क्रिसमस के रंग में रंगे नजर आए। छोटों से लेकर बड़े तक सेंटा की वेशभूषा पहने हुए थे। सेंटा की टोपी पहने सभी ने क्रिसमस की खुशी का इजहार किया। बाजार और चर्चों में सेंटा क्लॉज ने बच्चों को आकर्षक उपहार बांटे।

About एच बी संवाददाता

Check Also

WhatsApp Image 2019-03-21 at 01.25.05

फाग

आम की बौर,कोयल की कूक, जगह-जगह फूल, भँवरे की गुँजन और बसंती बयार । इन …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *