Monday , December 10 2018
Home / उत्तराखण्ड / गैरसैंण को स्थाई राजधानी बनाए जाने की मांग को लेकर पिछले 80 दिवस से जारी धरना
IMG-20181205-WA0192

गैरसैंण को स्थाई राजधानी बनाए जाने की मांग को लेकर पिछले 80 दिवस से जारी धरना

देहरादून | *गैरसैंण राजधानी निर्माण अभियान* द्वारा संघर्ष स्थल, देहरादून में गैरसैंण को स्थाई व पूर्णकालिक राजधानी बनाए जाने की मांग को लेकर पिछले 80 दिवस से जारी धरना के आज दिनांक 05 दिसम्बर 2018 को *हमारा उत्तरजन मंच (हम)* की केन्द्रीय कार्यकारिणी के पदाधिकारी गण मांग को समर्थन पर संघर्ष स्थल पर पहुंचे| *हमारा उत्तरजन मंच (हम)* के प्रतिनिधिमंडल का नेतृत्व  रणवीर सिंह चौधरी (अध्यक्ष),  समीर मुंडेपी (महासचिव), श्रीमती बिन्दु जोशी (महिला प्रभारी) कर रही थी| *हम* के प्रतिनिधिमंडल में श्री सुरेश नेगी, सुश्री नीमा धौंडियाल, सुश्री नीलम धौंडियाल, अखिल गढ़वाल महासभा के पूर्व महासचिव रमेन्द्र कोटनाला आदि भी सम्मिलित थे| हम के प्रतिनिधियों ने लगभग दो घंटा धरना पर बैठकर बिताया| हम के अध्यक्ष श्री रणवीर चौधरी ने कहा कि गैरसैंण उत्तराखंड आंदोलनकारियों का सपना है, जिसे पूरा करने के लिए जो भी बलिदान दिया जाए वह कम है| उन्होंने कहा कि बहुत शीघ्र हम *गैरसैंण राजधानी निर्माण अभियान* के नेतृत्व में गैरसैण में एक महासंकल्प आयोजित करेगी, और *25 दिसम्बर से प्रारम्भ किए जा रहे आर-पार आंदोलन* को पूर्ण समर्थन देगी| आज धरना संघर्ष स्थल पर समर्थन देने आने वालों में *उत्तराखंड संघर्ष समिति* के डीपीएस रावत और इन्द्रजीत असवाल, हरिओम ओमी भी शामिल रहे| इनके अतिरिक्त आज *ग्राम प्रहरी* संगठन भी अपनी पूरी ताकत के साथ  रामलाल टम्टा जी के नेतृत्व में लगभग दो घंटे तक गैरसैंण स्थाई व पूर्णकालिक मांग के पक्ष में *गैरसैंण राजधानी निर्माण अभियान* के बैनर तले बैठा| ग्राम प्रहरी संगठन के अध्यक्ष श्री रामलाल टम्टा ने गैरसैंण को स्थाई व पूर्णकालिक राजधानी बनाने का खुलकर समर्थन किया और कहा कि सभी ग्राम प्रहरी गैरसैंण के मुद्दे को चप्पे चप्पे तक पहुंचाएंगे और मंजिल तक पहुंचाने के लिए पूरी ताकत लगाएंगे| उन्होंने *गैरसैंण राजधानी निर्माण अभियान* का धन्यवाद किया कि संगठन गैरसैंण के अलावा सभी बेरोजगारों के सवालों को प्रमुखता से उठा रहा है| ग्राम प्रहरियों की ओर से आज संघर्ष स्थल पर बैठने वालों में रामलाल टम्टा (अध्यक्ष),  राकेश गोदियाल,  कैलाश चन्द्र,  नरेश चन्द्र, मनोज कुमार,  अमर्ष चन्द्र  जगदीश प्रसाद पंत,  प्रमोद कुमार,  मनोहर लाल,  बीर सिंह,  सुदेव सिंह,  कुलवीर सिंह,  रणवीर चन्द्र रमोला आदि प्रमुख थे| उत्तराखंड प्रदेश की स्थाई व पूर्णकालिक राजधानी गैरसैंण बनाए जाने की मांग को लेकर संघर्ष स्थल पर 17 सितम्बर 2018 से प्रारम्भ किया गया धरना को 80वाँ दिवस भी आज पूरे हो गए हैं| आज संघर्ष स्थल पर समर्थन देने आए संगठनों का धन्यवाद करते हुए गैरसैंण अभियानकर्मी श्री मनोज ध्यानी ने गैरसैंण राजधानी की जरूरत की बारीकियों को और भावी आंदोलन की रूपरेखा पर प्रकाश डाला| *गैरसैंण राजधानी निर्माण अभियान* के आज का धरना देने वालों में *सर्व श्री मनोज ध्यानी, शूरवीर सिंह, लक्ष्मी प्रसाद थपलियाल, कृष्ण काँत कुनियाल, अखिलेश व्यास, भुवन जोशी, सुभाष रतूडी, हर्ष मैंदोली, इंजीनियर आनंद प्रकाश जुयाल, श्रीमती सुमन डोभाल काला, श्रीमती ज्योत्सना असवाल* आदि बैठे|

 

About एच बी संवाददाता

Check Also

CM Photo 01, dt. 08 December, 2018

दारमा घाटी में विकसित होगी अखरोट की नर्सरी: मुख्यमंत्री

पिथौरागढ़/देहरादून । मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत ने शनिवार को धारचूला में रं संस्था द्वारा आयोजित …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *