भाजपा विधायक ऋतु खंडूड़ी भूषण राज्य की पांचवीं विधानसभा में अध्यक्ष की निभाएंगी भूमिका

भाजपा विधायक ऋतु खंडूड़ी भूषण राज्य की पांचवीं विधानसभा में अध्यक्ष की निभाएंगी भूमिका

देहरादून। कोटद्वार विधानसभा सीट से भाजपा विधायक ऋतु खंडूड़ी भूषण राज्य की पांचवीं विधानसभा में अध्यक्ष की भूमिका निभाएंगी। भाजपा ने उन्हें विधानसभा अध्यक्ष पद का प्रत्याशी बनाने का निर्णय लिया है। ऋतु खंडूड़ी भूषण विधानसभा अध्यक्ष बनने वाली राज्य की पहली महिला विधायक होंगी। वह पूर्व मुख्यमंत्री व पूर्व केंद्रीय मंत्री भुवन चंद्र खंडूड़ी की पुत्री हैं। ऋतु खंडूड़ी भूषण चैथी विधानसभा में पौड़ी गढ़वाल जिले की यमकेश्वर सीट से विधायक थीं। इस बार उन्हें भाजपा ने कोटद्वार सीट से प्रत्याशी बनाया। पिछली बार कोटद्वार से चुनाव जीतकर कैबिनेट मंत्री बने डा हरक सिंह रावत को भाजपा ने चुनाव से पहले निष्कासित कर दिया था, जिसके बाद वह कांग्रेस में लौट गए। अंतिम समय में टिकट मिलने के बावजूद ऋतु खंडूड़ी भूषण ने कोटद्वार सीट पर जीत दर्ज करते हुए कांग्रेस प्रत्याशी व पूर्व मंत्री सुरेंद्र सिंह नेगी को पराजित किया। इस विधानसभा चुनाव में पुरुषों की अपेक्षा महिला मतदाताओं के अधिक मतदान और भाजपा की लगातार दूसरी बार जीत के बाद मंत्रिमंडल में महिलाओं को अधिक प्रतिनिधित्व मिलने की संभावना व्यक्त की जा रही थी। यहां तक कि मुख्यमंत्री पद के दावेदार के रूप में भी ऋतु खंडूड़ी भूषण का नाम चर्चाओं में रहा। बुधवार को शपथ ग्रहण से पहले सभी को उम्मीद थी कि उन्हें मंत्रिमंडल में स्थान मिलेगा, लेकिन ऐसा हुआ नहीं। शपथ ग्रहण के बाद यह जानकारी सामने आई कि भाजपा ऋतु खंडूड़ी भूषण को विधानसभा अध्यक्ष का पद सौंपने जा रही है। संपर्क करने पर स्वयं ऋतु खंडूड़ी भूषण ने इसकी पुष्टि की। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने उन्हें यह जानकारी दी। उन्होंने बताया कि विधानसभा अध्यक्ष पद के लिए चुनाव प्रक्रिया आरंभ होने पर वह नामांकन करेंगी। उन्होंने विधानसभा अध्यक्ष पद को महत्वपूर्ण जिम्मेदारी बताते हुए इसके लिए भाजपा संगठन के प्रति आभार व्यक्त किया। ऋतु खंडूड़ी भूषण के पति राजेश भूषण केंद्र में सचिव स्वास्थ्य के पद पर कार्यरत हैं। साथ ही धामी कैबिनेट में शामिल सौरभ बहुगुणा रिश्ते में ऋतु खंडूड़ी भूषण के भाई हैं। भाजपा के विधानसभा में 70 में से 47 विधायक हैं। ऐसे में उनका विधानसभा अध्यक्ष बनना तय है।

editor

editor

Leave a Reply

Your email address will not be published.