Tuesday , December 11 2018
Home / टेक वर्ल्ड / गोबरधन योजना के अंतर्गत ग्रामीण गोबर देकर मुफ्त में ले सकेंगे बायोगैस, तीन ग्राम पंचायतों में प्लांट
baiogais

गोबरधन योजना के अंतर्गत ग्रामीण गोबर देकर मुफ्त में ले सकेंगे बायोगैस, तीन ग्राम पंचायतों में प्लांट

रतलाम । गोधन से मिलने वाले गोबर से अब बायोगैस बनाकर ग्रामीण मुफ्त उपयोग भी कर सकेंगे। जिले की तीन ग्राम पंचायतों में बायोगैस प्लांट (संयंत्र) लगाने की तैयारी की जा रही है। प्लांट लगने से ग्रामीणों को चूल्हे पर खाना पकाने से मुक्ति मिलेगी। बायोगैस प्लांट स्थापित होने के बाद पाइप लाइन से घरों में गैस कनेक्शन दिया जाएगा। साथ ही उच्च गणुवत्ता वाली खाद भी मिलेगी।

केंद्र सरकार की गोबरधन योजना के अंतर्गत जिले के तीन गांवों का चयन किया गया है। एक प्लांट से 150 से 200 परिवारों को लाभ मिलेगा। जिले में पहली बार शासन द्वारा बायोगैस प्लांट स्थापित किया जाएगा। गांव की भौगोलिक स्थिति, पशुधन व ग्राम पंचायतों की अभिरचि को ध्यान में रख प्लांट लगाने के लिए जिला पंचायत ने बिरमावल, ढोढर व पीपलखूंटा ग्राम पंचायतों का चयन किया है। इन ग्राम पंचायतों में गोबर, पानी और स्थान पर्याप्त है। प्लांट स्थापित होने के पहले केंद्र से एक तकनीकी टीम आकर निरीक्षण करेगी। प्रत्येक प्लांट को लगाने में करीब 8 लाख रुपये की लागत आएगी।

स्वच्छ भारत मिशन (ग्रामीण) द्वारा केंद्र सरकार की इस योजना का क्रियान्वयन किया जाएगा। इसीलिए दी प्राथमिकता जिस ग्राम पंचायत में पशुओं की संख्या 500 से 600 है, उसी गांव को इस योजना में प्राथमिकता देना है। अभी तीन ग्राम पंचायतों का प्राथमिक तौर पर चयन किया गया है। प्लांट में लगने वाला गोबर भी ग्रामीणों से लिया जाएगा। प्रतिदिन करीब 600 किलो गोबर प्लांट के लिए लगेगा। ग्रामीणों का एक समूह बनाया जाएगा। गोबर उपलब्ध कराने वाले ग्रामीणों के लिए बायोगैस मुफ्त रहेगी, जबकि अन्य को शुल्क देना पड़ेगा।

About एच बी संवाददाता

Check Also

kishtwar-road_18733407_12044265

जम्मू स्थित किश्तवाड़ में पहाड़ों का सीना चीर कर बनी दुनिया की सबसे खतरनाक सड़क 

किश्तवाड़। जम्मू स्थित किश्तवाड़ में पहाड़ों का सीना चीर कर बीकन (सैन्य विंग) पर्यटकों के लिए …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *