Thursday , March 21 2019
Home / प्राइम / अमिताभ और आमिर की थग्स ऑफ हिंदोस्तान ने तोड़े ये रिकॉर्ड
download (6)

अमिताभ और आमिर की थग्स ऑफ हिंदोस्तान ने तोड़े ये रिकॉर्ड

मुंबई। आमिर ख़ान और अमिताभ बच्चन ने पहली बार पर्दे पर साथ आकर इतिहास बना दिया है। दोनों कलाकारों की फ़िल्म ठग्स ऑफ़ हिंदोस्तान ने धमाकेदार ओपनिंग लेते हुए पिछले सारे रिकॉर्ड्स तहस-नहस कर दिये हैं। फ़िल्म ट्रेड से जुड़े सूत्रों की मानें तो ठग्स ऑफ़ हिंदोस्तान ने किसी त्योहार के मौक़े पर रिलीज़ होने वाली फ़िल्मों में सबसे बड़ी ओपनिंग ली है।

दिवाली के एक दिन बाद 8 नवंबर को रिलीज़ हुई ठग्स ऑफ़ हिंदोस्तान इस साल की बहुप्रतीक्षित फ़िल्मों में शामिल थी और ओपनिंग से लग रहा है कि फ़िल्म का वाकई इंतज़ार था। ट्रेड जानकारों के अनुसार, ठग्स ऑफ़ हिंदोस्तान की पहले दिन की कमाई 50 करोड़ के आस-पास रहने का अनुमान है। अगर यह पूर्वानुमान सही बैठता है तो ठग्स ऑफ़ हिंदोस्तान ना सिर्फ़ इस साल, बल्कि भारतीय सिनेमा की सबसे बड़ी ओपनिंग होगी। अब तक यह रिकॉर्ड शाह रुख़ ख़ान के पास है, जिनकी फ़िल्म हैप्पी न्यू ईयर ने 44.97 करोड़ का कलेक्शन पहले दिन किया था। यह फ़िल्म भी दिवाली के मौक़े पर आयी थी। दूसरी सबसे बड़ी ओपनिंग का रिकॉर्ड तेलुगु फ़िल्म बाहुबली2- द कंक्लूज़न के हिंदी वर्ज़न के नाम है, जो पिछले साल अप्रैल में रिलीज़ हुई थी और 41 करोड़ की शानदार ओपनिंग ली थी, जबकि अभी तक तीसरे स्थान पर सलमान ख़ान की फ़िल्म प्रेम रतन धन पायो है, जिसने 40.35 करोड़ का कलेक्शन पहले दिन किया था। यह फ़िल्म भी दिवाली पर ही रिलीज़ हुई थी।

ख़ास बात यह है कि ठग्स ऑफ़ हिंदोस्तान को समीक्षकों ने बेहद ख़राब रिव्यूज़ दिये हैं। धमाकेदार ओपनिंग के बाद अब आज के बिज़नेस पर नज़र रहेगी, क्योंकि माउथ पब्लिसिटी से फ़िल्म का कारोबार प्रभावित हो सकता है। यशराज फ़िल्म्स निर्मित ‘ठग्स ऑफ़ हिंदोस्तान’ को विजय कृष्ण आचार्य ने डायरेक्ट किया है, जो इससे पहले आमिर ख़ान के साथ ‘धूम 3’ जैसी कामयाब फ़िल्म बना चुके हैं।

त्योहार के मौक़ों पर फ़िल्में रिलीज़ करने का चलन हमेशा से है। त्योहारों के आस-पास हंसी-ख़ुशी का जो माहौल रहता है, वो फ़िल्म व्यवसाय के लिए उत्प्रेरक का काम करता है। इस दौरान रिलीज़ होने वाली फ़िल्में बॉक्स ऑफ़िस पर अच्छा प्रदर्शन करती रही हैं। एक पहलू यह भी है कि दिवाली जैसे बड़े त्योहार पर अधिकतर बड़े बजट की फ़िल्मों को रिलीज़ किया जाता है, जिसके चलते छोटी फ़िल्मों को मौक़ा नहीं मिल पाता। अगर पिछले 5 सालों में रिलीज़ हुई फ़िल्मों की बात करें तो दिवाली ने किसी को निराश नहीं किया है। अधिकतर फ़िल्में सफल रही हैं।

About एच बी संवाददाता

Check Also

WhatsApp Image 2019-03-21 at 01.25.05

फाग

आम की बौर,कोयल की कूक, जगह-जगह फूल, भँवरे की गुँजन और बसंती बयार । इन …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *