Friday , March 22 2019
Home / देश / दिल्ली-हरियाणा के बाद अब पंजाब में भी आप को लग सकता है झटका, गठबंधन अधर में
kejariwal 2

दिल्ली-हरियाणा के बाद अब पंजाब में भी आप को लग सकता है झटका, गठबंधन अधर में

चंडीगढ़ । दिल्ली-हरियाणा के बाद अब आम आदमी पार्टी को पंजाब में भी झटका लग सकता है। आप और शिरोमणि अकाली दल टकसाली के बीच गठबंधन की बातचीत अधर में आ गई है। गठबंधन न टूटे इसके लिए आप नए फार्मूले पर काम कर रही है। विभिन्न राज्यों में मिल रहे झटकों को देखते हुए आप पंजाब में गठबंधन के साथ ही चुनाव मैदान में उतरना चाह रही है। इसके लिए आप विवाद में फंसी आनंदपुर साहिब की सीट को खुला छोड़कर बाकी सीटों पर भी अकाली दल टकसाली से समझौता कर सकती है।

आनंदपुर साहिब सीट को लेकर फंसा पेंच, 12 सीटों पर आप व टकसाली तालमेल से लड़ सकते हैं चुनाव

गठबंधन को लेकर आप और टकसाली के बीच कई चरणों में बातचीत हो चुकी है। मुख्‍य पेंच आनंदपुर साहिब सीट को लेकर ही फंसा हुआ है। आप ने यहां से नरेंदर सिंह शेरगिल को उम्मीदवार बनाया है और टकसाली शिअद ने बीर दविंदर सिंह को उम्मीदवार घोषित किया है।

दोनों में से कोई भी पार्टी इस सीट से पीछे हटने को तैयार नहीं है। जानकारी के अनुसार आप ने टकसाली शिअद को यह विकल्प दिया था कि वह चाहे तो बीर दविंदर सिंह को बठिंडा से चुनाव लड़वा ले। आप ने कहा था कि वह टकसाली शिअद के लिए 13 में से तीन सीटें छोड़ देगी, लेकिन टकसाली आनंदपुर साहिब सीट छोड़ने को तैयार नहीं है। इसके कारण गठबंधन अधर में अटक गया है।

आप ने अपनाया नया फार्मूला

देश के अन्य राज्यों से मिल रहे झटके को देखते हुए आप ने नया फार्मूला अपनाया है। इसके तहत आनंदपुर साहिब सीट पर दोनों पार्टियों का समझौता नहीं होगा। बाकी १२ सीटों पर दोनों पार्टियां गठबंधन के तहत चुनाव लड़ेंगी। सूत्र बताते हैं कि आप ने इस फार्मूले से अकाली दल टकसाली के प्रधान रंजीत सिंह ब्रह्मïपुरा को अवगत करवा दिया है। अब इस पर फैसला ब्रह्मïपुरा को लेना है।

About एच बी संवाददाता

Check Also

mayawari_akhilesh

बसपा ने 11 उम्मीदवारों की पहली लिस्ट जारी की

लोकसभा चुनाव 2019 की लड़ाई महासंग्राम में बदल चुकी है। चुनाव तारीखों का एलान होते …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *